PRSU Result 2022 : घर बैठे ली गई थी ऑनलाइन परीक्षा, फिर भी 1021 परीक्षार्थी फैल, नहीं करा सकेंगे पुर्नमूल्यांकन 

PRSU Result 2022 : घर बैठे ली गई थी ऑनलाइन परीक्षा, फिर भी 1021 परीक्षार्थी फैल, नहीं करा सकेंगे पुर्नमूल्यांकन 
 

 

रायपुर। PRSU Result 2022 : पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय (Pandit Ravi Shankar Shukla University) ने कल कुछ कक्षाओ के परीक्षा परिणाम (Test result) जारी किए हैं। ऑनलाइन माध्यम से घर बैठे ली गई परीक्षा में भी 1021 परीक्षार्थी फैल हो गए हैं। ऑनलाइन परीक्षा होने के चलते छात्र पुर्नमूल्यांकन के आवेदन के भी पात्र नहीं होंगे।

इस वर्ष रविशंकर यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन माध्यम से वार्षिक परीक्षा आयोजित की थी। हालांकि पहले प्रदेश के सभी कालेजो व यूनिवर्सिटी में ऑफलाइन मोड़ में परीक्षा होने वाले थे,पर मुख्यमंत्री से छात्रों ने बढ़ते कोरोना का हवाला दे ऑनलाइन परीक्षा लेने की मांग की थी। छात्रों की मांग पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) ने कालेज छात्रों के ऑनलाइन परीक्षा लेने की घोषणा की थी। जिसके बाद प्रदेश के सभी यूनिवर्सिटी व कालेजो में ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गई थी। ऑनलाइन होने वाली परीक्षा में छात्र ऑनलाइन प्रश्न प्राप्त कर घर बैठे प्रश्नो को उत्तरपुस्तिका में हल करते थे। जिसके बाद उन्हें उसी दिन ही यूनिवर्सिटी या कालेजो में उत्तरपुस्तिकाएं जमा करनी पड़ती थी। घर बैठे होने वाली परीक्षा में छात्र किताबो का भी भरपूर उपयोग करते थे व किताबे खोल कर परीक्षा देते थे। उसके बाद भी 1021 छात्र कल घोषित नतीजों में फैल हो गए हैं।

रविशंकर यूनिवर्सिटी ने कल बीएससी फर्स्ट ईयर,सेकेंड ईयर व एमए इंग्लिश फाइनल ईयर के नतीजे जारी किए हैं। बीएससी फर्स्ट ईयर के लिए 13614 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी थी। 12413 छात्र पास हुए है। जबकि 775 विद्यार्थी फेल हुए। 426 को पूरक की पात्रता मिली। वहीं 266 के नतीजे रोके गए है। बीएससी सेकेंड ईयर की परीक्षा में 9722 छात्र शामिल हुए। इनमें 9225 छात्र पास हुए तो 244 फेल हुए। 252 को पूरक की पात्रता मिली। 1 छात्र का रिजल्ट रोका गया है। एमए इंग्लिश फाइनल ईयर मे परीक्षा में 2284 छात्र शामिल हुए, जिनमें 2279 पास हुए वहीं 2 छात्र फेल हुए है और 3 छात्रों के नतीजों को रोक गया है। कुल मिला कर घर बैठे ऑनलाइन आयोजित परीक्षा में भी 1021 छात्र फैल हो गए हैं। जिन्हें अब पुनर्मूल्यांकन की भी पात्रता नही होगी।