झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्तः बारिश से नदी नाले उफान पर, जानिए कैसा है ज़िला मुख्यालय का हाल

गरियाबंद ज़िले के कई इलाकों में बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मैनपुर सहित आस पास के नदी नालों में भारी बारिश के चलते हालात बिगड़े हुए देखे जा रहे हैं.छत्तिशगढ में लगतार बारिश से कई ज़िलों में अलर्ट जारी किया गया है.वहीं, ज़िले में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

जिला मुख्यालय गरियाबंद में सुबह से हो रही बारिश के चलते पूरा जन जीवन प्रभावित हो गया है। अत्यधिक वर्षा के कारण नगर के मुख्य सड़क मार्ग सहित कई गलियों में सड़क के ऊपर तक पानी बह रहा है। वही बारिश के कारण आवाजाही भी प्रभावित हो रही है। सुबह से ही हो रही तेज बारिश के कारण लोग घर में ही दुबके है। सुबह जल्दी खुलने वाले बस स्टेंड सहित चौक चौराहों की कई दुकान भी अब तक खुली नहीं हैं। यात्री बसों में भी सवारी नही पहुंच रहें हैं। गरियाबंद से राजिम और रायपुर जाने वाली शुरू की दो तीन बसों में अधिकांश सीटे खाली देखने को मिल रही है। हालाकि अत्यधिक जरूरी काम होने पर लोग छाते और रेनकोट के सहारे निकल रहे हैं।

इधर तेज बारिश के चलते एक बार फिर नदी नाले उफान में आ गए हैं। बीते दो दिन मैनपुर क्षेत्र में हुई बारिश का असर पैरी नदी में देखने को मिल रहा है। बीती रात से पैरी नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। इसके साथ ही ग्रामीण अंचलों में भी नदी नाले रपटों में पानी भरना शुरू हो गया है गरियाबंद के आसपास के गांव जैसे नागाबुढ़ा, पारागांव, छिंदौला में नाले रपटे में तेजी से पानी का स्तर बढ़ने लगा है। कुछ देर और बारिश हुई तो यह आवागमन अवरुद्ध होने की संभावना है।