डेंगू व मलेरिया के बढ़ते प्रकोप के बीच,165 ग्रेड मट्टीयुक्त पेय जल व्यवस्था के विरुद्ध मुक्ति मोर्चा व जनता कांग्रेस जे के नेता नवनीत चांद के नेतृव में जिला कलेक्टर से मुलाकात कर,निगम के पेय जल ट्रीटमेंट प्लांट की ज्ञापन दे जांच की रखी मांग – कुंदन पाटील

जगदलपुर की जनता को,डेंगू व मलेरिया के बढ़ते प्रकोप के बीच नगर सरकार व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों बरती जा रही उदासीन रवैया के चलते ,नगर निगम की पेयजल व्यवस्था में प्रयोगशाला द्वारा जारी रिपोर्ट के आधार पर,165.3मट्टी युक्त पानी पीने हेतु मजबूर ,जिमेदार कौन ? – नवनीत चांद

जगदलपुर। बस्तर अधिकार मुक्ति मोर्चा के मुख्य संयोजक व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के बस्तर जिला अध्यक्ष नवनीत चांद के नेतृत्व में जगदलपुर शहर के महारानी वार्ड के निवासियों व अन्य क्षेत्रों के लोगों ने जिला कलेक्टर से मुलाकात कर दिनांक 18 जुलाई को नगर निगम जगदलपुर की पीएचई विभाग द्वारा पेयजल हेतु

नलों से जारी किए गए पानी की अशुद्धता को देखते हुए पीएचई विभाग के प्रयोगशाला से दलों के माध्यम से आए पानी का सैंपल की जांच करवा।

जांच रिपोर्ट में मट्टी युक्त 165 ग्रेड के पेय जल व्यवस्था का विरोध कर निगम द्वारा संचालित पेयजल ट्रीटमेंट प्लांट की  कमेटी गठित कर जांच की मांग रखी गई,

मुक्ति मोर्चा के मुख्य संयोजक व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के बस्तर जिला अध्यक्ष नवनीत चांदनी कहा कि जहां एक तरफ जिले में डेंगू और मलेरिया का प्रकोप बढ़ता जा रहा है

वैसी अवस्था में शहर में साफ सफाई पर लोगों के घरों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी नगर निगम सरकार व जिम्मेदार विभागीय अधिकारियों की है।

ऐसी अवस्था में विगत 18 जुलाई को जो शुद्ध पानी लोगों के घरों में शहर में स्थापित ट्रीटमेंट प्लांट के माध्यम से दिया गया जिसकी जांच स्वयं पीएचई विभाग की प्रयोगशाला नहीं किया है

जिसकी रिपोर्ट में साफ तौर पर यह दर्शाया गया है यह सैंपल 165..3ग्रेड  है। जो नियमानुसार मनुष्य के पीने युक्त भी नही है।

विशेषज्ञों के अनुसार 1 से लेकर 5 तक की ग्रेड यही पानी को मनुष्य को पीने युक्त के रूप में माना जाता है जबकि 18 जुलाई को जो पानी शहर में सप्लाई किया गया

उसकी रिपोर्ट बेहद आश्चर्यजनक है। यह घटना इस बात का प्रमाण है कि नगर सरकार क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व विभागीय जिम्मेदारों को बस्तर की संवेदनशीलता से कोई सरोकार नहीं जब डेंगू और मलेरिया के प्रकोप तेजी से शहर में बढ़ रहे हैं।

बस्तर शिकार मुक्ति मोर्चा व जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे जिला प्रशासन से यह अपील करता है कि संबंधित घटना की विस्तृत जांच कराई जाए

साथ ही साथ शहर में स्थापित ट्रीटमेंट प्लांट की भी जांच करवाई जाए और जरूरी उपकरण लगाते हुए पानी को शुद्ध करने हेतु रासायनिक उपकरण की मात्रा का पेय जल शुद्धीकरण में किया जावे।

इस घटना के बाद मुक्ति मोर्चा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे द्वारा भी कमेटी गठित कर शहर की स्थापित ट्रीटमेंट प्लांट का दौरा कर जांच करवाएगा

इस दौरान शहर मंडल युवा मुक्ति मोर्चा अध्यक्ष किशन सरकार जगदलपुर ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष अजय बघेल शहर मंडल सचिव कुंदन पाटील शहर महामंत्री ओम मरकाम,सन्नी बघेल आदि पदाधिकारी व कार्यकर्ता एवं वार्ड वासी उपस्थित थे।