Fraud: 35 साल के ‘सॉफ्टवेयर इंजीनियर’ ने 13 महिलाओं से की शादी, ऐसे देता था टाइम

राजधानी में कोरोना की वजह से कैंसिल हुई शादी तो, बदले में मिलेंगे नगद 10 लाख!

 

Married Man Fraud: दो तेलुगु राज्यों में पिछले चार सालों में 13 महिलाओं से शादी करने वाले एक व्यक्ति को साइबराबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. शख्स की पहचान आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले के रहने वाले 35 वर्षीय अदापा शिवशंकर बाबू के रूप में हुई है, जो तलाकशुदा महिलाओं से शादी कर उनके पैसे और अन्य कीमती सामान लेकर फरार हो जाता था.

पता चला है कि आरोपी उन अमीर महिलाओं को निशाना बना रहा था, जो तलाकशुदा थीं और मैट्रिमोनियल साइटों पर जीवनसाथी की तलाश कर रही थी. उसने भरोसा दिलाने के लिए फर्जी तलाक के कागजात बनाकर अपने पास रखे हुए थे. साइबराबाद पुलिस कमिश्नरेट के तहत गाचीबोवली पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया, जिसके खिलाफ हैदराबाद, राचकोंडा, संगारेड्डी, गुंटूर, विजयवाड़ा और अनंतपुर में मामले दर्ज थे.

420 का मामला दर्ज

पीड़ितों में से एक ने रामचंद्रपुरम पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई, कि शिवशंकर बाबू ने उससे 25 लाख रुपये नकद और 7 लाख रुपये का सोना लिया था और उसे वापस नहीं कर रहा है. पीड़िता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 420 के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है.

महिलाओं को ऐसे फंसाता था

पीड़िता ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया था कि बाबू ने 2021 में एक मैट्रिमोनियल साइट के जरिए उससे संपर्क किया था. उसने उसे बताया कि उसके माता-पिता की मृत्यु बहुत पहले हो चुकी है और वह एक नामी फर्म में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में काम करता है. उसका मासिक वेतन 2 लाख रुपये है. उसने उसे बताया कि वह एक तलाकशुदा है और एक योग्य पत्नी की तलाश में है.

अमेरिका ले जाने का भी दिया झांसा

बातचीत करने के बाद पीड़िता के माता-पिता ने उसकी शादी बाबू से कर दी. उसने उसे अमेरिका ले जाने के बहाने उसके माता-पिता से लगभग 25 लाख रुपये लिए. लेकिन जब कई दिन बीत जाने के बाद भी अमेरिका जाने का कोई प्लान नहीं बनता दिखा, तो उसके माता-पिता ने उससे पैसे वापस देने को कहा. बाबू उसे और उसके माता-पिता से बचने की कोशिश करने लगा. जिसके बाद रामचंद्रपुरम पुलिस से संपर्क किया गया. पुलिस ने जब बाबू को पूछताछ के लिए थाने बुलाया तो वह यह जानकर चौंक गई कि वह पहले से शादीशुदा है. आरोपी एक महिला के साथ थाने आया था, जो उसके पक्ष में खड़ी थी और उसने पुलिस से कहा कि वह पैसे वापस कर देगा.

दिन और रात की शिफ्ट कहकर अलग-अलग महिलाओं को देता था टाइम

पीड़िता ने दूसरी महिला से गुपचुप तरीके से मुलाकात की और उसके बारे में पूछताछ की. बाद में, उन्हें उसी कॉलोनी की एक अन्य महिला के बारे में पता चला, जिसकी शादी भी बाबू से हुई थी. वह पीड़ितों को यह कहकर धोखा दे रहा था कि वह दिन की शिफ्ट और रात की शिफ्ट में जा रहा है और उनमें से प्रत्येक के साथ समय बिता रहा था. बाबू ने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार किया. उसने दावा किया कि उसने किसी से पैसे नहीं लिए.