BIG NEWS : सुकमा में पुलिस-नक्सलियों के बीच मुठभेड़: आधे घंटे तक दोनों ओर से फायरिंग, एक माओवादी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में पुलिस और नक्सलियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हुई है। डीआरजी और सीआरपीएफ के जवान एंटी नक्सल ऑपरेशन पर निकले थे, तभी घात लगाए नक्सलियों ने फायरिंग झोंक दी। जवानों ने भी मोर्चा संभाला और मुंहतोड़ जवाब दिया। दोनों ओर से करीब आधे घंटे तक गोलीबारी हुई। जवानों को भारी पड़ता देख माओवादी जंगल का फायदा उठाकर भाग गए। सर्चिंग करने पर एक वर्दीधारी पुरुष माओवादी का शव बरामद किया गया है। जवान मौके पर मौजूद हैं। घटनास्थल की सर्चिंग की जा जारी है। मामला फुलबगड़ी थाना क्षेत्र का है।

सुकमा एसपी सुनील शर्मा ने बताया कि जिले के फुलबगड़ी थानक्षेत्र में शुक्रवार को मुठभेड़ हुई है। जवानों एक पुरुष माओवादी ढेर कर दिया। फुलबगड़ी थाना से डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) और सीआरपीएफ द्वितीय बटालियन के जवानों की संयुक्त टीम सर्चिंग पर रवाना हुई थी। शाम 4 बजे जवानों की टीम मुलेर गांव से आगे गोरगुंडा पहाड़ी के पास पहुंची थी कि पहाड़ी की आड़ लेकर माओवादियों ने जवानों पर हमला कर दिया। दोनों ओर से लगभग आधे घंटे तक फायरिंग हुई। जवानों को भारी पड़ता देख माओवादी घने जंगल का फायदा उठाकर भाग निकले। जवानों ने 3 से 4 माओवादियों को गोली लगने का दावा किया है।

सर्चिंग से लौटने पर मिलेगी ज्यादा जानकारी 
एसपी ने बताया कि घटनास्थल की सर्चिंग करने पर एक पुरुष नक्सली का शव और देशी कट्टा बरामद किया है। मारे गए माओवादी के शव को लेकर जवान लौट रहे हैं। थाना पहुंच कर उसकी शिनाख्त की जाएगी। मारे गए माओवादी पर कितना इनाम था और वह किस कैडर तभी इसकी जानकारी मिल पाएगी। बता दें कि पुलिस मॉनसून में भी नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रही है। सुकमा जिले में माओवादियों ने एक सप्ताह के अंदर 2 ग्रामीणों पर मुखबिरी का आरोप लगाकार उनकी हत्या कर चुके हैं। वहीं बीते दिनों नरसापुरम के पास सड़क भी खोद दिया था।