तालाब में डूबने से दादी सहित 2 बच्चों की मौत, मशरूम लेने घर से निकले थे तीनों, परिवार में पसरा मातम

कोरबा। जिले में वृद्धा और उसके नाती-नातिन की पानी में डूबने से मौत हो गई। तीनों के शवों को एक तालाब से बरामद किया गया है। तीनों सुबह 6 बजे घर से मशरूम (पुटू) लेने जंगल से लगे खेत की तरफ गए थे। वहीं परिवार के अन्य सदस्य घर से लगे बाड़ी में काम कर रहे थे। सूचना पर परिवार के सदस्य भी तालाब पर पहुंचे। 2 बच्चों सहित 3 लोगों की मौत से परिवार में मातम पसरा हुआ है। पुलिस वे शवों को पीएम के लिए भिजवाया। यह हत्या है, खुदकुशी या फिर कोई हादसा इसे लेकर पुलिस अभी जांच कर रही है। मामला करतला थाना क्षेत्र का है।

थाना प्रभारी राजेश चंद्रवंशी ने बताया कि करतला में बिजेंद्र कंवर का परिवार निवास करता हैं। गुरुवार की सुबह बिजेंद्र की 50 वर्षीय मां सूरज बाई अपनी 7 वर्षीय नातिन जानवी और 5 वर्षीय नाती अखिल को लेकर पुटू (मशरूम) लेने घर से निकली थी। तीनों काफी देर तक वापस घर नहीं लौटे। पुलिस को सूचना मिली कि तालाब में महिला का शव देखा गया है। पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। शव को बाहर निकलवाया गया। शव की पहचान सूरज बाई के रूप में हुई। मां का शव मिलने की सूचना पर उसका बेटा बिजेंद्र भी मौके पर पहुंचा। पुलिस को बिजेंद्र ने बताया कि दो बच्चे भी साथ निकले थे।

सभी एंगल से जांच कर रही पुलिस 
पुलिस ने बच्चों की तलाश शुरू की। तालाब के बाहर ही बच्चों की चप्पलें पड़ी हुई थीं। इस पर पुलिस ने गोताखोरों को बुलाकर तालाब में खोजबीन शुरू कराई। कुछ देर में दोनों बच्चों के शव भी तालाब में मिले। 2 बच्चों सहित 3 लोगों की मौत से पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। करतला थाना प्रभारी राजेश चंद्रवंशी ने बताया कि घटनास्थल पर किसी तरह के संघर्ष के निशान नहीं मिले हैं। आशंका हैं कि हाथ पैर में कीचड़ लगने के बाद बच्चे और उनकी दादी तालाब में आए होंगे। बच्चों के पानी में डूबने के दौरान उनकी दादी ने भी बचाने का प्रयास किया होगा। इस दौरान तीनों की तालाब में डूबने से मौत हो गई। फिलहाल, पुलिस हत्या, आत्महत्या और किसी घटना सभी पहलुओं को जोड़कर जांच कर रही है।