CBSE Result : CBSE 12वीं में बिलासपुर की शुभी ने 99.4%, रायपुर की शांभवी ने 99% अंक किए हासिल, सिविल सर्विसेस की तरफ जताई इच्छा

CBSE Result : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 12वीं के परिणाम जारी कर दिए हैं। छत्तीसगढ़ में बेटियों ने कमाल किया है। बिलासपुर की शुभी शर्मा (shubhi sharma) ने 99.40 प्रतिशत अंक हासिल कर प्रदेश में पहला स्थान बनाया है। रायपुर की शांभवी शर्मा (Shambhavi Sharma)ने 99 प्रतिशत और पाखी दुबे (Pakhi Dubey)ने 98.6% अंक हासिल किए हैं। रायपुर में सबसे ज्यादा अंक शांभवी शर्मा को मिले हैं। होनहार बच्चों ने इस सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, शिक्षकों और मित्रों को दिया है। शुभी ने कहा कि मन को साधकर पढ़ाई करना ही हर परीक्षा को पास करने का मूल मंत्र है। शुभी (shubhi) ने सिविल सर्विसेस की तरफ जाने की इच्छा जताई है।

बिलासपुर के इंदिरा विहार निवासी शुभी शर्मा साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) में चीफ विजिलेंस ऑफिसर बीपी शर्मा की बेटी है। सीबीएसई की पढ़ाई कैसे की। कितने घंटे पढ़ाई करती थी, अपनी सफलता और भविष्य में क्या बना चाहती है। शुभी ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, दादी दादा, नाना-नानी, अपने टीचर्स और अपने फ्रेंड्स को श्रेय दिया है। शुभी ने बताया कि वह दिन 5 छह घंटे पढ़ाई करती थी। उन्होंने सफलता के मूल मंत्र के सवाल पर कहा कि मन को साधकर पढ़ाई करना ही हर परीक्षा को पास करने का मूल मंत्र है।

 

also read : Acciden In Chhattisgarh : ट्रक ने बाइक सवार 2 युवकों को कुचला , परिजनों और गुस्साए लोगों ने‌ घंटों सड़क रखा जाम

दसवीं में शुभी ने लाया था 98 प्रतिशत अंक
स्कूली पढ़ाई पूरी होने के बाद अब शुभी दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ने की तैयारी करने वाली है। साथ ही सिविल सेवा की तरफ जाने के लिए भी उन्होंने तैयारी की है। बेटी की इस सफलता पर पूरा परिवार खुश है। शुभी के पिता बीपी शर्मा ने कहा कि जिस हिसाब से बेटी ने तैयारी की थी उन्हें सफलता की पूरी उम्मीद थी। बेटी पर नाज है। वह जो पढ़ाई करना चाहती है, मैं उसके साथ हूं। शुभी शर्मा को इंग्लिश में 98, हिस्ट्री में 100, पोलिटिकल साइंस में 100 अंक, इकॉनॉमिक्स में 99 अंक एवं फिजिकल एजुकेशन में 100 अंक मिले हैं। शुभी शर्मा ने कक्षा दसवीं सीबीएसई बोर्ड में 98 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किया था। एसईसीएल बिलासपुर के जनसंपर्क अधिकारी सनीश चंद्र ने कहा कि शुभी शर्मा की इस उपलब्धि पर एसईसीएल परिवार गौरवान्वित है।