शिक्षकों ने 25 से 29 जुलाई तक हड़ताल करने का किया ऐलान

5000 से अधिक शिक्षक करेंगे हड़ताल

दुर्ग जिले में कल से पांच दिवसीय शिक्षक और अधिकारियों का महंगाई भत्ता और एचआरए की मांग को लेकर सरकार के खिलाफ हल्ला बोल करेंगे, इनके आंदोलन का असर पूरे 9 दिनों तक पड़ेगा। पूरे प्रदेशभर में 53 विभाग के अधिकारी-कर्मचारी सोमवार से हड़ताल पर चले जाएंगे। प्रदेश अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन के आह्वान पर शिक्षा,स्वास्थ्य विभाग सहित कलेक्ट्रोरे,तहसील,निगम,राजस्व, आरटीओ,वन विभाग जैसे कई विभागों में कामकाज पूरी तरह ठप होगा। इस आंदोलन से सरकारी स्कूलों में तालाबंदी की स्थिति होगी। इस दौरान टीचर्स से लेकर प्रधानपाठक, प्राचार्य सब हड़ताल में शामिल होंगे। आंदोलन के चलते 5 दिन छुट्टी से बच्चों को काफी नुकसान झेलना पड़ेगा। छत्तीसगढ़ प्रदेशाध्यक्ष राजेश चटर्जी ने बताया कि फेडरेशन के आह्वान पर प्रदेशभर के अधिकारी-कर्मचारी, शिक्षक सभी 25 जुलाई से पांच दिनों तक हड़ताल में रहेंगे। इस दौरान हर विभाग में तालाबंदी की स्थिति हो जाएगी। अपने हक के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्हें नियमत जो भत्ता मिलना चाहिए था सरकार ने उसे भी रोक दिया। जबकि केंद्रीय कर्मचारियों को इसका घोषणा दिनांक से पूरा-पूरा लाभ मिल रहा हैं।