Mehbooba Mufti: राष्ट्रपति पद से हटते ही महबूबा मुफ्ती ने रामनाथ कोविंद पर साधा निशाना, बोलीं- BJP के एजेंडे को

 

Mehbooba Mufti attack on Ram Nath Kovind: द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu) ने आज (25 जुलाई) भारत के 15वें राष्ट्रपति के तौर पर पदभार ग्रहण कर लिया है और चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एनवी रमण उन्हें राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई. द्रौपदी मुर्मू के शपथ लेने के बाद जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) पर निशाना साधा और उनपर बीजेपी का राजनीतिक एजेंडा चलाने का आरोप लगाया.

गलत परंपरा बना गए रामनाथ कोविंद: महबूबा मुफ्ती

पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने ट्वीट कर कहा, ‘निवर्तमान राष्ट्रपति अपने पीछे एक ऐसी विरासत छोड़ गए हैं, जहां भारतीय संविधान को अनेक बार कुचला गया है. चाहे वह अनुच्छेद 370 की बात हो, नागरिकता कानून (CAA) को खत्म करना हो या अल्पसंख्यकों और दलितों को बेधड़क निशाना बनाना हो. उन्होंने भारतीय संविधान की कीमत पर भाजपा के राजनीतिक एजेंडे को पूरा किया.

महबूबा मुफ्ती ने तिरंगा अभियान को लेकर लगाए आरोप

इससे पहले महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने जम्मू-कश्मीर प्रशासन पर ‘हर घर तिरंगा’ मुहिम के तहत लोगों को राष्ट्रीय ध्वज खरीदने के लिए ‘मजबूर’ करने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा कि देशभक्ति स्वत: आती है और इसे थोपा नहीं जा सकता. बता दें कि ‘हर घर तिरंगा’ मुहिम ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत 13 से 15 अगस्त तक नागरिकों को अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रोत्साहित करने के मकसद से शुरू की गई है.