चर्चित रंजीत हत्याकांड मामले में मृतक रंजीत के परिजनों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस


परिजनों ने बताया हत्या में शामिल थे 18–20 लोग

 

कैंप 1 में 18 जून को हुए चर्चित रंजीत हत्याकांड मामले में मृतक रंजीत के परिजनों द्वारा बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर पुलिस प्रशासन से रंजीत पुल्लर हत्याकांड में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग रखी हैं । 

 

छावनी थाना क्षेत्र अंतर्गत शारदापारा जेपी नगर कैंप 2 मे हुए चर्चित रंजीत हत्याकांड के मामले मे परिजनों ने बुधवार को एक प्रेसकॉन्फ्रेंस कर पुलिस प्रशासन से रंजीत पुल्लर हत्याकांड मे शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने की बात कही है किबता दे की 18 जून को रंजीत की हत्या की गई थी जिसमे शामिल बीजेपी के लोकेश पाण्डेय सहित 8 आरोपियों को पुलिस ने अलग अलग जगहों से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन परिजनों का आरोप है,  कि रंजीत हत्याकांड मे 18 से 20 लोग शामिल थे  लेकिन पुलिस ने सिर्फ 8 आरोपियों को ही गिरफ्तार किया है। परिजनों ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज मे सभी शेष आरोपियों के चेहरे साफ साफ नजर आ रहे है, घटना बीतने के 39 दिन बाद भी शेष आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी और वो आज़ाद घूम रहे है। जिससे परिजनों को जान का खतरा बना हुआ है।


परिजनों ने मामले की शिकायत गृहमंत्री,डीजीपी,आईजी और एसपी से भी की है।पत्रवार्ता में मृतक रंजीत के मामा मलकीत ने यह भी आरोप लगाया कि लोकेश पाण्डेय ने घर दिखाने और रंजीत को घर से लाने के एवज में पीटर को साढे 4 लाख रूपये दिये हैं। परिवार जनों को पुलिस ने बताया कि पीटर गिरफ्तार हुआ है लेकिन रंजीत हत्याकांड में नही अन्य किसी मामले में गिरफ्तार किया गया है।परिजनों ने हत्याकांड की निष्पक्ष और प्रभावी ढंग से जांच करने की मांग करते हुए कहा की आरोपी राजनीतिक पकड़ रखते है। रसूखदार है।मामले की निष्पक्ष और गंभीरता पूर्वक जांच की जाये, और सभी शेष आरोपियों की गिरफ्तारी की जाये।