BIG BREAKING : बंगाल की CM ममता बनर्जी का बड़ा फैसला, पार्थ चटर्जी कैबिनेट से बाहर

Partha Chatterjee: बंगाल में SSC घोटाले में लिप्त पार्थ चटर्जी की मुश्किलें अब बढ़ती जा रही हैं. राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने उन्हें कैबिनेट से बाहर कर दिया है. बता दें कि पार्थ चटर्जी इन दिनों ED की कस्टडी में हैं और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी के ठिकानों से करोड़ों रुपये निकल रहे हैं.

पार्टी से भी बाहर करने की मांग

इसके अलावा पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के राज्य महासचिव एवं प्रवक्ता कुणाल घोष ने मांग की है कि SSC घोटाले की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी को पार्टी से भी तत्काल निष्कासित किया जाना चाहिए.

ममता बनर्जी ने दिया ये बयान

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटा दिया है. मेरी पार्टी सख्त कार्रवाई करती है. इसके पीछे कई योजनाएं हैं लेकिन मैं विवरण में नहीं जाना चाहती.

चटर्जी के करीबी के ठिकानों से करोड़ों बरामद

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों के अनुसार, चटर्जी से संबद्ध अपार्टमेंट से करीब 50 करोड़ रुपये नकद और सोना बरामद किया गया है. इसके अलावा कुछ संपत्तियों तथा विदेशी मुद्रा से संबंधित दस्तावेज भी बरामद किए गए थे, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया.

सरकार में इतनी जिम्मेदारियां संभाल रहे थे चटर्जी

बता दें कि पार्थ चटर्जी उद्योग, वाणिज्य और उद्यम विभाग, सूचना प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग, संसदीय मामलों के विभाग और सार्वजनिक उद्यम और औद्योगिक पुनर्निर्माण विभाग के प्रभारी मंत्री थे.

हरकत में ममता सरकार

उनके निलंबन को लेकर आज कैबिनेट की बैठक हुई थी. अब से कुछ देर पहले ही पश्चिम बंगाल कैबिनेट की बैठक खत्म हुई है. अब ममता बनर्जी ने सोमवार को कैबिनेट की बैठक फिर से बुलाई है. ये दिलचस्प है क्योंकि कैबिनेट की बैठक आमतौर पर हर दो हफ्ते में एक बार होती है.