Chess Olympiad : चेन्नाई में आज से 44वें शतरंज ओलंपियाड का आगाज, PM मोदी के हाथों होगा भव्य शुभारंभ, CGOA महासचिव होरा भी होंगे मौजूद

 

चेन्नई। Chess Olympiad प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को तमिलनाडु के चेन्नई के पास महाबलिपुरम में 44वें शतरंज ओलंपियाड का उद्घाटन करेंगे जो पहली बार भारत में होने जा रहा है। तमिलनाडु के राज्यपाल आर एन रवि, मुख्यमंत्री एम के स्टालिन और खेलमंत्री अनुराग ठाकुर जवाहर लाल नेहरू इंडोर स्टेडियम में होने वाले उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे।

 

 

इस विश्व स्तरीय आयोजन के लिए छत्तीसगढ़ ओलिंपिक संघ के अध्यक्ष मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और महासचिव गुरुचरण सिंह होरा को आमंत्रण मिला है।

 

 

वहीँ महासचिव गुरुचरण सिंह होरा को 44 वी शतरंज ओलंपियाड के लिए ऑफिसियल नियुक्त किया गया है। आयोजन में शामिल होने महासचिव होरा चेन्नई पहुंच चुके है।

 

 

बता दें, चेन्नाई में आयोजित 44वें अंतर्राष्ट्रीय शतरंज ओलंपियाड पहली बार ओलंपियाड भारत में हो रहा है जिसमे कुल 188 देश के प्रतिभागी हिस्सा ले रहे है. कहा जा रहा है कि यह संख्या अबतक आयोजित किए गए किसी भी ओलंपियाड से ज्यादा है। यह प्रतियोगिता 1927 से लगातार आयोजित किया जा रहा है। और भारत में यह पहली बार आयोजित की जा रही है। जबकि एशिया 30 साल बाद इसकी मेजबानी करेगा।

 

 

जानकारी के आनुसार, चेस में चोटी की टीम रूस और चीन इस बार ओलंपियाड में भाग नहीं ले रहे हैं। ऐसे में भारत ओपन और महिला वर्ग में तीन तीन टीमें उतारेगा। ओपन वर्ग में 188 और महिला वर्ग में 162 खिलाड़ी उतरेंगे। इसकी मशाल रिले पिछले 40 दिन में 75 शहरों में होती हुई यहां पहुंची है।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया ,‘‘ यह खास टूर्नामेंट है और हमारे लिये यह सम्मान की बात है कि इसका आयोजन भारत में हो रहा है और वह भी तमिलनाडु में जिसका शतरंज से सुनहरा नाता रहा है।’’

 

 

विश्वनाथन आनंद निभाएंगे मेंटोर की भूमिका

 

टूर्नामेंट में भारत की तीन तीन टीमें ओपन और महिला वर्ग में उतरेंगे। महान शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद खेल नहीं रहे हैं लेकिन खिलाड़ियों के मेंटोर की भूमिका में होंगे। निश्चित तौर पर भारतीय टीम उनके अनुभव का पूरा लाभ उठाना चाहेंगी। वहीँ आनंद समेत शतरंज धुरंधरों का मानना है कि इसके आयोजन से देश समेत तमिलनाडु में शतरंज की लोकप्रियता और बढेगी।

 

 

व्यवस्था हुई पूरी 

 

यूक्रेन – रूस वार की वजह से छीनी गई मेजबानी 

 

तमिलनाडु सरकार ने टूर्नामेंट का जबर्दस्त प्रचार किया है। पारंपरिक तमिल परिधान पहने ओलंपियाड के शुभंकर ‘थम्बी’ के कटआउट जगह जगह लगाये गए हैं । ओलंपियाड रूस में होना था लेकिन यूक्रेन पर रूस के सैन्य हमले के बाद उससे मेजबानी छीन ली गई ।