Birthday Special : हैप्पी बर्थडे सोनू सूद, मॉडलिंग से की शुरुआत, जानें पर्दे के खलनायक से लोगों के लिए मसीहा बनने तक का सफर

जब कोविड महामारी ( corona)आई तो किसी ने इन्हें रियल हीरो( real hero) कहा तो किसी ने भगवान।आज हम बात कर रहे सोनू सूद की। तो चलिए जानते है उनके बारे में

Read more : Birthday Special : हैप्पी बिर्थडे धनुष, सेट पर धनुष को बुलाते थे ऑटो ड्राइवर, बर्थडे पर जानिए एक्टर से जुड़े किस्से

सोनू सूद आज अपना बर्थडे सेलिब्रेट ( celebrate)कर रहे हैं। मिडिल क्लास फैमिली से आने वाले सोनू सूद ने इंजिनियरिंग के दौरान ही मॉडलिंग( modeling)करना शुरू कर दिया था। साधारण चेहरा होने के चलते उन्हें एक्टिंग करियर शुरू करने के लिए भी खासा स्ट्रगल करना पड़ा। सोनू ने बचपन से एक्टर बनने का सपना देखा था। उन्होंने तमिल फिल्म कल्लाझागर से अपने करियर की शुरुआत की थी। फिल्मों में ज्यादातर विलेन का रोल करने वाले सोनू को लोग रियल हीरो तब कहने लगे जब कोविड-19 में उन्होंने परेशान हो रहे लोगों की मदद करना शुरू किया। उन्होंने हजारों लोगों को अपने घर तक पहुंचने में मदद की। कई लोगों का इलाज करवाया, गरीब घर की लड़कियों की शादी करवाने जैसे नेक काम किए।

कब और कहा हुआ जन्म( birth)

सोनू सूद का जन्म 30 जुलाई 1973 को पंजाब के मोगा में हुआ था। उनके पिता कपड़ों का बिजनेस( business ) करते थे तो वहीं उनकी मां कॉलेज में प्रोफेसर थीं। उनके पैरेंट्स उन्हें इंजिनियर बनाना चाहते थे इसलिए उन्होंने स्कूली पढ़ाई के बाद इंजिनियरिंग करने के लिए नागपुर का रुख किया। यहां उन्होंने यशवंत राव चौहान कॉलेज में एडमिशन ले लिया।

सोनू सूद की बॉलीवुड में एंट्री साल 2002 में आई फिल्म “शहीद-ए-आजम

सोनू सूद की बॉलीवुड में एंट्री साल 2002 में आई फिल्म “शहीद-ए-आजम” से हुई। इस फिल्म में सोनू ने भगत सिंह का रोल प्ले किया। हालांकि फिल्म हिट नहीं हुई लेकिन सोनू सूद की एक्टिंग को इस फिल्म में खासा पसंद किया गया जिसके बाद उन्हें बॉलीवुड फिल्मों के ऑफर आने लगे। इस फिल्म के बाद सोनू मणि रत्नम की फिल्म युवा में नजर आए।