जब भोलेनाथ निकले अपनी बारात ले कर, बोल-बम और हर-हर महादेव के नारों से गूंज उठा भूतेश्वरनाथ

गरियाबंद : श्रावण मास के तीसरे रविवार को वातावरण बम भोले के नारों से गूंज उठा। भगवान शिव का जलाभिषेक करने को हर-हर महादेव का उद्घोष करते हुए कांवरिए भूतेश्वर नाथ पहुंचे। दोपहर बाद कांवरियों के आने से नगर केसरिया रंग से पट गया। : बोलबम, बोलबम के जयकारे से गरियाबंद शिवभक्तों की नगरी गूंज उठा. शनिवार देर रात से ही श्रद्धालुओं का जत्था नदियों से जलबोझी कर तीसरी सोमवारी पर जलाभिषेक के लिए नाचते-गाते पहुंचने लगे. श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए प्रशासन की उपस्थिति में मंदिर पुजारी के प्रथम पूजा के बाद रात में ही दर्शन पूजन के लिए पट को खोल दिया गया.

श्रद्धालुओं की लंबी कतार लगी हुई थी. कतार में लगी महिलाएं जहां शिव नाच गा रही थी, मौका था बाबा की नगरी भूतेश्वरनाथ धाम जाने का. सावन की तीसरी सोमवारी को कांवर लेकर भूतेश्वरनाथ जानेवाले कांवरियों के जयकारों से रविवार सुबह से पूरा शहर भक्तिमय हो उठा. राजिम त्रिवेणी संगम रायपूर महादेवघाट महसमूँद एवं राज्य के अन्य शहर से कांवरियों ने विधिवत पूजा -अर्चना कर जल को संकल्प करवा कर भूतेश्वर नाथ के लिए यात्रा शुरू की.

रविवार को भूतेश्वरनाथ जानेवाले कांवरियों का सिलसिला सुबह 5:00 बजे से शुरू हो गया था . तीसरी सोमवारी होने के कारण कांवरियों की भारी भीड़ देखने को मिली. कांवरिया गरियाबंद से होते हुए भूतेश्वरनाथ धाम पहुँचते है जहां स्नान कर मंदिर में भगवान भोलेनाथ पर जलाभिषेक कर दोबारा भूतेश्वर नाथ जाने के लिए जल को संकल्प करवा कर निकलते हैं. एक अनुमान है कि रविवार सुबह लगभग 20 हजार से अधिक महिला- पुरुष कांवर लेकर!भूतेश्वरनाथ रवाना हुए.

युवाओं की मित्रमंडली ने कुछ ऐसा किया झूम उठे शिवभक्त

गरियाबंद के युवाओं की मित्रमंडली ने सुबह भांडरे का आयोजन किया वही शाम में लाइटिंग से पूरे शिवलिंग को सरोबर किया और साथ ही डी॰जे॰ से पूरे शिवालय में भक्तिमय संगीत का कार्यक्रम रखा गया

भोलेनाथ की बारात में शामिल हुए हज़ारों कावारिए बारतियो के साथ शंकर पार्वती के वेशभूषा धारण किए शिवभक्तों की टोली बारात ऐसी जैसे सच में भोलेनाथ अपनी बारात ले कर चल रहे हो हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी शिवभक्त कावरिय अलग अलग अन्दाज़ में अपने भोलेनाथ से मिलने पहुँच रहे है , रविवार को छत्तिशगढ के अलावा पड़ोसी राज्य ओड‍िशा से भी श्रद्धालु भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करने के लिए आए थे.

सैकड़ों किलोमीटर दूर से पैदल यात्रा कर के आए श्रधालुओं को किसी प्रकार की दिक़्क़त ना हो,काँवरियो की भारी भीड़ को देखते ही पुलिस अधीक्षक जे॰आर॰ ठाकुर ने खुद संभला मोर्चा

रविवार को दोपहर बाद से ही यहां कांवरियों का जमावड़ा लगना शुरू हुआ तो रात होते-होते शंकर की इस पावन नगरी में हजारों कावंरियों का सैलाब उमड़ पड़ा। आज सुबह से ही बोल बम का नारा लगाते हजारों कांवरिए जलाभिषेक के लिए टूट पड़े। कांवरियों की भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रही थी। दूसरी ओर स्थानीय श्रद्धालुओं का भी रेला निकल पड़ा। पूरा भूतेश्वर नाथ धाम हर-हर महादेव के जयकारे से गूंज उठा। अपार भीड़ देख। पुलिस अधीक्षक जे॰आर॰ ठाकुर ने खुद कमान संभला और पुलिस के बल के साथ महिला पुलिसकर्मी को पहले से तैनात कर दिया गया था। सैकड़ों पुलिसकर्मी श्रद्धालुओं के सैलाब को संभालने में जुटे रहे। सोमवार को दिनभर बाबा धाम में शिवभक्तों का जलाभिषेक करने के लिए तांता लगा रहेगा। ल