ED Notice: सोनिया के बाद कांग्रेस के इस बड़े नेता को ईडी ने भेजा नोटिस, राहुल गांधी बोले- डरेंगे नहीं

 

ED Notice Mallikarjun Kharge:  के इस मानसून सत्र (Monsoon Session) के दौरान में आज भी जमकर हंगामा हो रहा है. कांग्रेस पार्टी ने केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग के आरोप को लेकर जबरदस्त हंगामा किया है. वहीं राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने ED की तरफ से उन्हें समन जारी करने पर सवाल उठाए हैं. मल्लिकार्जुन खड़गे ने आज संसद में कहा है कि ऐसे समय जब पार्लियामेंट सेशन चल रहा है तो मुझे संसद सत्र के बीच में ईडी का नोटिस मिला है. ऐसे में हम डरेंगे नहीं बल्कि मजबूती से लड़ेंगे.

आप तुरंत आइए: खड़गे

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब पार्लियामेंट चल रही है, मुझे ईडी का समन आता है. आप तुरंत आइए. मुझे 12:30 बजे जाना है. मैं कानून का पालन करना चाहता हूं, लेकिन जब सदन चल रहा है मुझे समन करना क्या यह उचित है? कल सोनिया गांधी और राहुल गांधी के घर का पुलिस ने घेराव किया था. क्या ऐसे में डेमोक्रेसी जीवित रहेगी? क्या हम संविधान के तहत काम कर पाएंगे?  हम डरेंगे नहीं, हम फाइट करेंगे. हम आपसे अपील करते हैं कि इस मुद्दे पर चर्चा कीजिए।

राहुल गांधी का बयान

नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी की जांच का सामना कर रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि वह मोदी सरकार से नहीं डरते हैं.  राहुल ने यहां अपने घर के बाहर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा, ‘हम भागेंगे नहीं, न ही हम नरेंद्र मोदी से डरते हैं. उन्हें वह करने दें जो वह चाहते हैं. उन्हें लगता है कि वे हम पर दबाव बनाकर हमारी आवाज को चुप करा सकते हैं. लेकिन ऐसा होने वाला नहीं है. मोदी जी और अमित शाह जी जो कुछ भी कर रहे हैं, वह लोकतंत्र के खिलाफ है.’

राहुल गांधी गुरुवार को संसद में कांग्रेस सांसदों की बैठक में शामिल नहीं हुए. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा यहां हेराल्ड हाउस को सील किए जाने के बाद कांग्रेस ने बैठक बुलाई थी. कांग्रेस ने सत्तारूढ़ सरकार पर विपक्षी नेताओं के साथ ‘आतंकवादी’ जैसा सलूक करने का भी आरोप लगाया.

कांग्रेस करेगी 5 अगस्त को प्रदर्शन

ईडी की जांच खासकर नेशनल हेराल्ड मामले को लेकर ईडी की कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस पार्टी पीएम हाउस के बाहर प्रदर्शन करेगी. हालांकि दिल्ली पुलिस ने इस धरना प्रदर्शन की इजाज़त देने से इनकार किया है. इस बीच कांग्रेस का कहना है कि उसके नेता और कार्यकर्ता शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करेंगे.