CG WEATHER NEWS : राजधानी समेत कई जिलों में सुबह से हो रही झमामझम बारिश, इन जिलों में बढ़ा बाढ़ का खतरा, अलर्ट मोड पर प्रशासन 

 

रायपुर। CG WEATHER NEWS राजधानी रायपुर (Raipur) समेत प्रदेश के अन्य जिलों में सुबह से ही झमामझम बारिश (drizzle rain) हो रही हैं। इधर बस्तर संभाग में बीते चार दिनों से हो रही बारिश से नदी नाले उफान पर हैं कई गांवों से संपर्क टूट गया हैं। लगातार बारिश से जिला प्रशासन अलर्ट मोड (District Administration Alert Mode) पर है।

 

जारी हुआ अलर्ट

छत्तीसगढ़ में भारी से अति भारी बरसात का नया ऑरेंज अलर्ट जारी हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में रायपुर, दुर्ग और बस्तर संभाग के कई जिलों में भारी से अति भारी वर्षा हो सकती है। एक-दो स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है। वहीं बिलासपुर के जांजगीर-चांपा में भारी वर्षा और वज्रपात का यलो अलर्ट जारी किया गया है। भारी बरसात की वजह से राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पानी घुस गया है।

 मंडराया बाढ़ का खतरा

रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, अगले 24 घंटों में प्रदेश के बस्तर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा, कोण्डागांव, कांकेर, नारायणपुर, धमतरी, महासमुंद, राजनांदगांव, बालोद, गरियाबंद, रायपुर, दुर्ग, कबीरधाम, बलौदा बाजार-भाटापारा, बेमेतरा, जांजगीर-चांपा और उससे लगे जिलों में एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ भारी वर्षा और वज्रपात की संभावना है। इसके बाद नदी-नालों के कैचमेंट एरिया, निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है।

 

दक्षिण छत्तीसगढ़ में बीते 72 घंटों से झमाझम बारिश हो रही है। जिसके चलते एक बार फिर कई जिलों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। रायपुर-जगदलपुर राष्ट्रीय राजमार्ग भारी बारिश के चलते प्रभावित हुआ हैं। सोनारपाल के पास मककंउी नदी में बाढ़ का पानी भरने से संपर्क टूट गया हैं। वहीं पूरी तरह से गाड़ियों की आवाजाही बंद हो गई हैं। इधर नदी किनारे गांवों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा हैं। अलर्ट जारी होने के बाद जिला प्रशासन की टीम बचाव कार्य में जुट गई हैं।

 

मौसम विभाग ने कहा है कि इस बरसात से नहरों का प्रभाव बढ़ सकता है। खेत डूब सकते हैं और फसलें जलमग्न हो सकती हैं। रेलवे और सड़क परिवहन पर भी जलजमाव का असर हो सकता है। ऐसे क्षेत्रों में सतर्क रहने को कहा गया है।

 

बुधवार को भी होगी जमकर बरसात

मौसम विभाग के मुताबिक 10 अगस्त को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज-चमक के साथ छीटें पडने की सम्भावना है। प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने तथा एक दो स्थानों पर अति भारी वर्षा होने की भी सम्भावना बन रही है। भारी तथा अति भारी वर्षा का क्षेत्र मुख्यतः मध्य छत्तीसगढ़ रहने की सम्भावना है। इसी क्षेत्र में रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर संभाग का सबसे बड़ा खेतिहर इलाका आता है।