रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज दीनदयाल ऑडिटोरियम में सर्व आदिवासी समाज द्वारा आयोजित विश्व आदिवासी दिवस के कार्यक्रम में शामिल हुए।

इस दौरान उन्होंने कहा नए रायपुर में 25 एकड़ में आदिवासी संग्रहालय बन रहा है। आजादी की लड़ाई में आदिवसियों की अहम भूमिका रही है।

आदिवासियों की भाषा-संस्कृति को संरक्षित कर रहे हैं। आदिवासी समाज के लिए कोई कमी नहीं करेंगे, जो भी जरूरत होगी सब पूरा करेंगे।

सीएम भूपेश ने कहा पेसा कानून का राजपत्र में प्रकाशन हो चुका है। अब राज्य इसका में क्रियान्वयन में होगा. ग्राम सभा में 50 प्रतिशत आदिवासी होंगे। महिलाओं को भी आधी जिम्मेदारी मिलेगी।

कांग्रेस सरकार ने विश्व आदिवासी दिवस के दिन छुट्टी घोषित किया। 5 लाख पट्टा वितरित किए गए। 15 लाख हेक्टेयर जमीन सामुदायिक अधिकार के तहत दिए गए। 65 प्रकार के लघुवनोप की खरीदी जारी है। आर्थिक सुधार आदिवासियों में हुआ है, स्वास्थ्य के दिशा में भी सुधार हुआ है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा मलेरिया अभियान से 65 प्रतिशत की कमी मलेरिया बीमारी में आई है। नक्सली क्षेत्रों में 300 स्कूलों की शुरुआत की गई है। जहां शिक्षक नहीं वहां शिक्षकों की नियुक्ति होगी।