रायपुर :- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार ने बस्तर संभाग के वनांचल क्षेत्रों में शांति, सुरक्षा एवं विकास कार्यों में स्थानीय युवक-युवतियों को रोजगार के अवसर सहित क्षेत्र में सकारात्मक योगदान सुनिश्चित करने के उद्देश्य से बस्तर फाईटर्स नाम की एक विशेष बल के गठन के लिए नए पदों के सृजन की स्वीकृति प्रदान की थी.

इन स्वीकृत नवीन पदों में बस्तर, दंतेवाड़ा, कांकेर, बीजापुर, नारायणपुर, सुकमा और कोण्डागांव जिले में बस्तर फाईटर आरक्षक के 300-300 कुल 2100 पद स्वीकृत किए गए हैं.

बस्तर फाईटर्स आरक्षक भर्ती प्रक्रिया के अंतर्गत मई-जून महीने में शारीरिक दक्षता परीक्षा (100 अंको) में योग्य पाए गए 5,405 उम्मीद्वारों के लिए बस्तर संभाग के कांकेर, कोण्डागांव, नारायणपुर, बस्तर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा जिला मुख्यालय में 17 जुलाई 2022 को 50 अंको की लिखित परीक्षा संपन्न की गई थी. जिसमें संभाग के कुल 5330 उम्मीदवार शामिल हुए थे.

चयन सूची जारी

बस्तर फाईटर आरक्षक पद के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा और लिखित परीक्षा में प्राप्तांको (मेरिट क्रमानुसार) के आधार पर बस्तर संभाग में कुल 3969 उम्मीदवारों का 01 अगस्त से 10 अगस्त 2022 तक संबंधित सभी जिला मुख्यालय में 20 अंको का साक्षात्कार लिया गया. उपरोक्त सभी प्रक्रिया पूर्ण कर बस्तर फाईटर आरक्षक पद के लिए 15 अगस्त 2022 को उम्मीदवारों की चयन और प्रतीक्षा सूची जारी कर दी गई है.

पुलिस और स्थानीय जनता के संबंधों मिलेगी मजबूती

बता दें कि अंदरूनी वनांचल क्षेत्र में रूबरू होने के दौरान बल सदस्यों को स्थानीय बोली की जानकारी नहीं होने से अनेक प्रकार की व्यावहारिक कठिनाई एवं चुनौतियों का सामना करना पड़ता था.

बस्तर फाईटर आरक्षक भर्ती में जिले के स्थानीय भर्ती होने के साथ-साथ क्षेत्र की बोली के जानकार अभ्यर्थियों के चयन होने पर भाषा की चुनौती को दूर करने के साथ-साथ स्थानीय जनता एवं पुलिस के संबंध को और भी मजबूती मिलेगी