BIG NEWS : यहाँ कोरोना के बाद आया नया खतरा 'टमाटर फ्लू', 80 से ज्यादा बच्चे हुए बीमार, स्वास्थ्य अधिकारियों ने दी यह चेतावनी 

देश में एक बीमारी Tomato Flu के बारे में आजकल खूब चर्चा हो रही है. अक्सर किसी नई बीमारी( new disease) का नाम आता है तो इसको लेकर अफवाह और Whatsapp पर अधूरा ज्ञान शुरू हो जाता है।इसलिए आपको Tomato Flu बीमारी के बारे में हर जरुरी जानकारी बताएंगे। जिससे इस बीमारी को लेकर आपका हर कंफ्यूजन( confusion) और डर दूर हो जाएगा और आप आसानी से इस बीमारी का सामना कर सकेंगे।

Read more : Tomato Flu: टोमैटो फ्लू क्या है, जानें इसके लक्षण, भारत में क्या हैं हालात

केंद्र ने कहा कि वैसे तो ‘टोमेटो फ्लू’ में अन्य वायरल संक्रमणों की तरह (बुखार, थकान, बदन दर्द और त्वचा पर चकत्ते जैसे) लक्षण दिखते हैं, लेकिन इस वायरस का सार्स-कोव-2, मंकीपॉक्स, डेंगू या चिकुनगुनिया से कोई संबंध नहीं है. इस साल छह मई को केरल के कोल्लम जिले में ‘टोमेटो फ्लू’ का पहला मामला सामने आया था और इसके अब तक 82 से मामले सामने आने की सूचना है।

पांच साल से छोटे 82 बच्चों में संक्रमण का पता चला

रिपोर्ट के अनुसार टोमेटो फ्लू या टोमेटो बुखार की सबसे पहले पहचान छह मई को केरल के कोल्लम जिले में हुई थी. राज्य सरकार के अस्पतालों से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 26 जुलाई तक पांच साल से छोटे 82 बच्चों में संक्रमण का पता चला है। केरल के अलावा तमिलनाडु और ओडिशा में भी टोमेटो फ्लू के मामलों का पता चला है।

क्या है लक्षण ( symptoms) 

बीमारी में शरीर पर लाल रंग के छाले या फफोले हो जाते हैं जिनमें दर्द होता है, इसलिए इसे टोमेटो फ्लू कहा गया. अध्ययन के अनुसार यूं तो यह बीमारी जानलेवा नहीं है, लेकिन कोविड-19 महामारी के खतरनाक अनुभव को देखते हुए इसके प्रकोप को रोकने के लिए सतर्कता के साथ प्रबंधन जरूरी है. इस वायरस में कोविड की तरह ही बुखार, थकान, शरीर में दर्द और चकत्ते जैसे लक्षण भी सामने आ सकते हैं।