Sonali Phogat : बीजेपी लीडर और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट केस (Sonali Phogat) में बड़ा खुलास हुआ है। गोवा पुलिस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह खुलासा किया कि सोनाली के पीएम सुधीर और उसके साथी सुखविंदर ने जबरन उसे ड्रग्स दिया था। गोवा के IGP ओमवीर सिंह बिश्नोई ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि CCTV फुटेज में पता चला कि कथित आरोपी सधीर सांगवान और उसका साथी सुखविंदर सिंह मृतका के साथ एक क्लब में पार्टी कर रहे हैं और एक वीडियो से पता चला है कि एक कथित आरोपी पीड़िता को कुछ जबरन पिला रहा है।

बिश्नोई ने बताया कि जब सुखविंदर और सुधीर के सामने सीसीटीवी फुटेज रखी गई तब दोनों ने यह माना कि उन्होंने जानबूझकर पीड़िता को ड्रग्सदी ती। इसके पीने के बाद पीड़िता अपने होश में नहीं रही। बिश्नोई ने बताया कि दोनों आरोपियों को IPC की धारा 302 और 34 के तहत गिरफ़्तार किया गया है।

सोनाली फोगाट का हिसार में अंतिम संस्कार

सोनाली फोगाट का हिसार में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे। फोगाट की बेटी यशोधरा और परिवार के अन्य सदस्यों ने ऋषि नगर के श्मशान घाट में उन्हें अश्रुपूर्ण विदाई दी। यशोधरा ने ही उनकी चिता को मुखाग्नि दी। उनका पार्थिव शरीर बृहस्पतिवार को गोवा से उनके हिसार स्थित फार्महाउस लाया गया था। हरियाणा के मंत्री एवं हिसार से भाजपा के विधायक कमल गुप्ता और पार्टी के नेता कुलदीप बिश्नोई भी फोगाट को श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

रहस्यमय परिस्थितियों में हुई थी मौत

फोगाट को कथित तौर पर तबियत खराब होने के बाद 23 अगस्त को उत्तरी गोवा जिले के अंजुना स्थित सेंट एंथनी अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी। कुछ वर्ष पहले उनके पति का भी रहस्यमय परिस्थितियों में निधन हो गया था। शुरुआत में दिल का दौरा पड़ने के कारण फोगाट की मौत होने की आशंका जताई गई थी। हालांकि, शव का पोस्टमार्टम किए जाने के बाद अंजुना पुलिस ने ‘‘अप्राकृतिक मौत’’ के मामले में हत्या का आरोप जोड़ा और बताया कि रिपोर्ट में उनके शरीर पर ‘‘गहरी चोट के कई निशान’’ होने की बात कही गई। गोवा पुलिस ने इस संबंध में फोगाट के दो सहयोगियों सुधीर सागवान और सुखविंदर वासी को हिरासत में लेकर पूछताछ की और पूरे मामले का खुलासा किया।

फोगाट के भाई ने दर्ज कराई थी शिकायत

फोगाट के भाई रिंकू ढाका ने अंजुना थाने में इन दोनों आरोपियों के खिलाफ बुधवार को शिकायत दर्ज कराई थी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने बृहस्पतिवार को कहा था कि अगर फोगाट का परिवार उनकी मौत की सीबीआई से जांच कराना चाहता है, तो इस पर विचार किया जाएगा। कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से बात की है और उनसे सीबीआई जांच कराने का आग्रह किया है।