जगदलपुर।  बस्तर की बेटी, पर्वतारोही नैना सिंह धाकड़ ने 6250 मीटर ऊंचे माउंट मेंटोक कांगड़ी की चढ़ाई कर तिरंगा फहराया है।
लगातार एक के बाद एक तीन पहाड़ों को पार कर नैना ने फतह हासिल की है। इस पहाड़ की चढ़ाई करने 10 सदस्यों की टीम निकली थी, आधे रास्ते में 7 बीमार हुए तो लौट आए। नैना और अन्य 2 लोगों ने हार नहीं मानी और चढ़ते गए।
खराब मौसम भी नैना के बुलंद हौसले को रोक नहीं पाई। पर्वत पर चढ़कर तिरंगा फहराया और योगा कर स्वस्थ रहने का संदेश दिया। साथ ही अमचो बस्तर, बेटी नहीं किसी से कम, बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ और स्वामी विवेकानंद का बैनर ‘उठो जागो और तब तक नहीं रुको, जब तक लक्ष्य प्राप्त न हो जाए’ लगाया।