भिलाई। भाजपा पार्षद दया सिंह से लोगों की उम्मीदें बढ़ गई है। तीन दिन पहले सफाई कर्मियों की समस्या का समाधान कराया था। आज शनिवार को फिर से दूसरे वार्डों के सफाई कर्मी पहुंच गए। इन्हें भी दया से समाधान की उम्मीद थी। सभी दया से दरख्वास्त करने लगे कि उनकी समस्याओं को गंभीरता से लेकर निगम के अधिकारियों पर दबाव बनाकर समाधान कराए। दया ने बिल्कुल भी देर नहीं की और उन्होंने निगम आयुक्त से बातचीत की है। अब तक कर्मियों को पेमेंट नहीं मिला है।

दया सिंह ने बताया कि, खुर्सीपार इलाके के वार्ड-46, 45, 49, 48 और जोन-3 खुर्सीपार के सफाई कर्मियों को निगम ने वेतन नहीं दिया है। ठेकेदार अपनी मनमानी कर रहे हैं। नगर निगम भिलाई के सफाई कर्मियों का हाल बुरा है। उन्हें समय पर वेतन नहीं मिल रहा है। न ही ईपीएफ काटा जा रहा है और न ही ईएसआईसी की सुविधा मिल रही है। नगर निगम भिलाई में बैठे जिम्मेदारी अपनी जेब गरम कर रहे हैं। दया ने कहा कि, मेयर और विधायक के पास इन्हें समाधान नहीं मिला है।

दअसल, दया सिंह के पास आज सुबह-सुबह सैकड़ों की संख्या में सफाई कर्मी पहुंचे। उन्होंने अपनी समस्या बताई। सभी ने एक स्वर में कहा कि, उनसे काम लिया गया है। लेकिन पेमेंट का भुगता नहीं किया गया है। दया सिंह को कर्मियों ने यह भी बताया कि, उन्हें ईएसआईसी और ईपीएफ की सुविधा भी नहीं दी जा रही है। अगर कभी कोई हादसा हो गया तो इसके लिए निगम भी जिम्मेदार नहीं होगा।

दया सिंह ने कहा कि सफाई कार्य में जिम्मेदारों की सेटिंग है। ठेकेदारों से कमीशन बंधा हुआ है। यह ज्यादा दिन नहीं चलने वाला है। क्योंकि भाजपा इसकी जांच की मांग करता है। सफाई कर्मियों की सुविधा से लेकर उनके वेतन में हो रही देरी के लिए शिकायत की जाएगी।