KBC : कौन बनेगा करोड़पति' के हॉट सीट पर बैठे छत्तीसगढ़ के गुरुदेव, जीती 6 लाख 40 हजार की धनराशि, छत्तीसगढ़ के बारे में कही यह बात

 

 

जांजगीर-चांपा। KBC जिले में रहने वाले गुरुदेव बरेठ (Gurudev Bareth) ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (KBC) की हॉट सीट पर बैठे। उन्होंने महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के सवालों का जवाब देते हुए 6 लाख 40 हजार रुपए की धनराशि जीती। गुरुदेव बरेठ जांजगीर-चांपा जिले (Janjgir-Champa district) के आरस्मेटा गोपाल नगर स्थित न्यूवोको प्लांट द्वारा संचालित स्कूल में गणित के शिक्षक हैं। कौन बनेगा करोड़पति के प्ले अलॉन्ग के एपिसोड में वे दिखाई दिए। शुक्रवार 26 अगस्त को इस एपिसोड का प्रसारण टेलीविजन पर हुआ।

 

गुरुदेव बरेठ ने 9 सवालों का जवाब आसानी से दे दिया। उन्होंने दसवें प्रश्न पर लाइफ लाइन ऑडियंस पोल लिया। इसके बाद 11वें सवाल का जवाब भी उन्होंने आसानी से दे दिया, लेकिन 12 लाख 50 हजार रुपए के लिए पूछे गए सवाल में वे उलझ गए। इस सवाल का जवाब पाने के लिए उन्होंने बची हुई दो लाइफ लाइन का इस्तेमाल भी किया, लेकिन दुविधा की वजह से उन्हें गेम छोड़ना पड़ा। इस तरह गुरुदेव बरेठ ने 11 सवालों का सही जवाब देकर 6 लाख 40 हजार रुपए की धनराशि जीती।

 

छत्तीसगढ़ के बारे में भी दी जानकारी

गुरुदेव ने अमिताभ के सवाल पर गणित विषय की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इसमें बस एक बार इन्वेस्टमेंट करना पड़ता है, इसके बाद आप कभी मैथ्स को नहीं भूलते। आप सालों पहले पढ़े गए अन्य विषयों की बातों को भूल सकते हैं, लेकिन गणित को नहीं। गुरुदेव बरेट ने एपिसोड के दौरान छत्तीसगढ़ के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां भी दीं। खेल के दौरान गुरुदेव बरेठ ने कहा कि लोगों के मन में यह धारणा है कि छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद है और वहां काफी अशांति है, लेकिन इसके उलट वो बिल्कुल शांत प्रदेश है, जहां की पहचान कोयला, एल्यूमिनियम, बिजली है। इन सबका उत्पादन छत्तीसगढ़ में होता है।

 

दैनिक भास्कर डिजिटल से चर्चा के दौरान गुरुदेव बरेठ ने बताया कि जब कौन बनेगा करोड़पति से पहला कॉल आया, तब उसे उन्होंने फेक कॉल समझा, क्योंकि केबीसी के नाम से सोशल मीडिया पर ठगी की जाती है, जिसके कई लोग शिकार भी बन चुके हैं।

 

शुरू में लगा कि फर्जी कॉल आया है

जिसके बाद 12 अगस्त को कौन बनेगा करोड़पति की एग्जीक्यूटिव टीम ने चर्चा कर मुझे विश्वास दिलाया, जिसके बाद वीडियो कॉल के माध्यम से उन्होंने मेरी पूरी जानकारी ली। उन्होंने मेरी बायोग्राफी भी बनाई। इससे पहले 2 मिनट में 10 सवाल एग्जीक्यूटिव टीम के सदस्यों ने मुझसे पूछे, जिनका मैंने सही-सही जवाब दिया। इसके बाद मेरा चयन हो गया।उन्होंने बताया कि 15 अगस्त को उन्हें मुंबई बुलाने के लिए कॉल किया गया और टिकट भेजने की बात भी कही गई। इसके बाद वे दूसरे दिन मुंबई के लिए रवाना हो गए।

 

अमिताभ बच्चन हैं जमीन से जुड़े हुए- गुरुदेव बरेठ

गुरुदेव बरेठ ने बताया कि सदी के महानायक अमिताभ बच्चन डाउन टू अर्थ हैं। उन्होंने एक पल के लिए भी यह अहसास नहीं होने दिया कि वह एक महानायक हैं और हम एक आम इंसान। घर-परिवार से लेकर पूरे प्रदेश की जानकारी उन्होंने व्यक्तिगत चर्चा और हॉट सीट पर बैठने के दौरान की।

 

महानायक अमिताभ बच्चन से मिलना था सपना

गुरुदेव बरेठ ने बताया कि वह अपनी पत्नी निर्मला बरेठ के साथ कौन बनेगा करोड़पति में शामिल होने के लिए मुंबई गए थे। इस दौरान उनकी पत्नी के मन में भी कई संशय थे, मगर वहां जाकर सब खत्म हो गए। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ के विषय में पूछने पर जब वह नक्सलवाद के विषय में बता रहे थे, तब उनके मन में भ्रम था कि उन्हें कहीं रोक न दिया जाए, लेकिन अमिताभ बच्चन ने विस्तार से इस बात की जानकारी चाही। गुरुदेव बरेठ ने बताया कि उनका मुख्य उद्देश्य धनराशि कमाना नहीं, बल्कि सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से मिलना था, जो पूरा हो गया।

 

गुरुदेव बरेठ का परिचय

कौन बनेगा करोड़पति के हॉट सीट तक पहुंचे गुरुदेव बरेठ मूल रूप से जांजगीर-चांपा जिले के निवासी हैं। उनकी शिक्षा कोरबा जिले में हुई है। वे गणित विषय के शिक्षक हैं और वर्तमान में जांजगीर-चांपा जिले के आरस्मेटा गोपाल नगर स्थित न्यूवोको प्लांट द्वारा संचालित स्कूल में अध्यापन का कार्य कर रहे हैं।