Technology News : सर्च इंजन कंपनी Google का इंटरनेट ब्राउजर Chrome सबसे लोकप्रिय ब्राउजर्स में शामिल है, इसमें कोई दो राय नहीं है। कंपनी इसमें लगातार नए फीचर्स देती रहती है और अब यूजर्स को incognito टैब लॉक करने का विकल्प मिल रहा है। बेहतर प्राइवेसी (privacy) देते हुए हुए यूजर्स को अब उनके ब्राउजर में incognito टैब्स लॉक करने का मौका मिल रहा है। नई सेटिंग्स (Settings) के साथ यूजर्स के ब्राउजर (browser) से बाहर निकलते ही पर्सनल टैब लॉक हो जाएंगे और केवल उनके फिंगरप्रिंट से ही ओपेन होंगे।

नई रिपोर्ट में बताया गया है कि गूगल क्रोम ब्राउजर को मिले नए अपडेट के बाद अपना फोन किसी को देने पर भी वह incognito टैब ओपेन नहीं कर पाएगा। गूगल क्रोम में बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन का विकल्प यूजर्स को साल 2020 से मिल रहा है, जब कंपनी ने iOS ऐप में incognito मोड में प्राइवेसी स्क्रीन फीचर शामिल किया था। आईफोन में क्रोम यूजर्स को पहले ही टच ID या फेस ID की मदद से टैब अनलॉक करने का विकल्प मिलता है। अब ऐसा ही फीचर एंड्रॉयड डिवाइसेज में भी दिया जा रहा है।

also read : Technology News : जल्दी करें….. अब वनप्लस के ये महंगे फोन पर कमाल का offer, मिल रहा 23,500 रुपये तक का Discount

ऐसे काम करेगा नया गूगल क्रोम फीचर
एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म पर गूगल क्रोम यूजर्स को एक ग्रे स्क्रीन दिखाई जाएगी, जिसके बीच में टैप कर वे इससे जुड़ी सेटिंग्स में बदलाव कर पाएंगे। यहीं उन्हें ‘अनलॉक incognito’ मोड का विकल्प भी मिलेगा और वे ऑथेंटिकेशन फीचर चुन पाएंगे। इसके बाद फिंगरप्रिंट स्कैन करने के बाद ही टैब ओपेन होगा और उसका कंटेंट ऐक्सेस किया जा सकेगा।

वैकल्पिक फीचर है फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन
नया गूगल क्रोम फीचर वैकल्पिक है, यानी कि अपडेट मिलने के बाद यह अपने आप इनेबल नहीं होगा। क्रोम अपडेट करने के बाद यूजर्स को सेटिंग्स में जाकर ‘Lock incognito tabs when you leave chrome’ पर टैप करना होगा और वे जरूरी बदलाव कर पाएंगे।