CG CRIME NEWS : कार खराब होने पर किया धक्का देने से इंकार, गुस्साए दोस्तों ने सिर कुचलकर कर दी युवक की हत्या, सभी गिरफ्तार

 

 

दुर्ग। CG CRIME NEWS : जिले में 6 दोस्तों ने मिलकर अपने ही दोस्त की बेरहमी से हत्या कर दी है। कार को धक्का देने के बीत को लेकर युवक और उसके दोस्तों में विवाद (dispute among friends) हुआ था। विवाद इतना बढ़ा कि पहले तो युवकों ने उसे पीटा। फिर पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। जिसके बाद वो घायल हो गया था। बाद में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई है। मामला वैशाली नगर थाना क्षेत्र (Vaishali Nagar Police Station ) का है।

 

मृतक की पहचान अब्दुल ग़यासुद्दीन (abdul ghyasuddin) कुरैशी पिता एजी कुरैशी (30 वर्ष) के रूप में हुई है। वह सुपेला थाना अंतर्गत इंदिरा नगर में रहता था और फ्लॉवर डेकोरेशन का काम करता था। उसके साथ वैशाली नगर थाना अंतर्गत गांधी नगर निवासी भूपेश देवदास (24 वर्ष), बृजेश उर्फ़ बिज्जू देवदास (22 वर्ष), हरीश धृतलहरे (25 साल), अजय उर्फ़ अज्जु भदौरिया (40 साल), पंकज लाउत्रे उर्फ़ मॉस (27 साल) और इंदिरा नगर निवासी अमन उर्फ़ समीर खान भी डेकोरेशन का काम करते थे। ये सभी अजय उर्फ अज्जु भदौरिया के अंडर में काम करते थे।

 

खाना खाने जाने के दौरान विवाद

 

इन लोगों ने मंगलवार को प्रणय भवन में सजावट का काम किया था। काम करने के बाद सभी वापस घर चले गए थे। इसके बाद रात को करीब 11 बजे सातों लोग कार से खाना खाने के लिए वहीं जा रहे थे। जैसे ही वे लोग अपने घर से भगत सिंह चौक पहुंचे। उनकी कार खराब हो गई। इस पर अजय ने सभी को कार में धक्का देने के लिए कहा। इस पर अब्दुल ने धक्का देने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर अजय व उसके पांच अन्य दोस्तों ने अब्दुल से झगड़ा करना शुरू कर दिया।

 

पत्थर से कुचला सिर  

 

झगड़ा बढ़ने पर 6 लोगों ने मिलकर अब्दुल को हाथ-मुक्के से पहले पीटा। फिर पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। इससे वह अधमरा होकर वहीं गिर गया। घटना के बाद आरोपी वहां से भाग गए। उधर, आस-पास के लोगों ने जब अब्दुल को देखा। तब उन्होंने 112 की मदद से उसे अस्पताल भेजा। जहां इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई थी।

 

कार की मदद से आरोपियों तक पहुंची पुलिस

आस-पास के लोगों ने ही इस घटना की जानकारी पुलिस को दी थी। खबर मिलने पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पूछताछ शुरू की गई। तब पुलिस को झगड़े की बात पता चली। ये भी पता चला कि आरोपी लाल कार से मौके पर आए थे। इसके बाद पुलिस ने आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। कैमरों की मदद लेने के बाद पुलिस ने आस-पास के इलाकों में दबिश दी और सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।