RAIPUR NEWS : शराब दुकान परिसर में आहता को बंद कराने धरना पर बैठे भाजपा नेता और वार्ड वासी  

 

रायपुर। RAIPUR NEWS : राजधानी के GE रोड राजकुमार कॉलेज के समीप चूड़ामणि वार्ड स्थित शराब दुकान और उसी परिसर में अवैध रूप से चल रहे शराब पिलाने के लिए आहता को बंद कराने के लिए भाजपा पार्षद दीपक जायसवाल के नेतृत्व में शराब दुकान के सामने भाजपा के अनेक नेता और वार्ड की महिलाएं धरने पर बैठी। साढ़े 3 बजे ज्ञापन लेने पहुंचे जिला आबकारी की टीम और नायब तहसीलदार के सामने आबकारी अधिकारी ने स्वीकार किया कि शराब दुकान चलाने की अनुमति है, लेकिन परिसर में जो आहता चल रहा है वह अवैध है।

 

 

इसके बाद भाजपा पार्षद दीपक जायसवाल शहर जिला महामंत्री ओंकार बैस, पार्षद एवं प्रवक्ता मृत्युंजय दुबे, प्रफुल्ल विश्वकर्मा, DD नगर मण्डल अध्यक्ष अनिल सोनकर, बजरंग खण्डेलवाल, पूर्व पार्षद गोपी साहू, आशीष अग्रवाल, सनत बैस , पन्चु भारती, पार्षद भोला साहू, पार्षद कमलेश वर्मा और धरने में उपस्थित सभी लोगों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए अवैध रूप से चल रहे आहता को बन्द करने की माँग आबकारी अधिकारी और थानेदार से की ।

 

 

कुछ देर तक आबकारी अधिकारी औऱ आजाद चौक थाना प्रभारी अवैध आहता को तत्काल बन्द कर सील करने की माँग पर मौन रहे और एक दूसरे के विभाग पर कार्यवाही के लिए टालते रहे। भाजपा पार्षद दीपक जायसवाल, मृत्युंजय दुबे ने स्पष्ट चेतावनी दी कि जब तक अवैध रूप से चल रहे आहता को बन्द कर सील नहीं करेंगे तो आंदोलन समाप्त नही होगा, आंदोलन का विस्तार कर चक्का जाम भी किया जाएगा। भाजपा नेताओं के आक्रोश और जनता की नारेबाजी के बीच आबकारी अधिकारी और नायब तहसीलदार आहता परिसर के अन्दर गए जहाँ 2 कमरों और खुले परिसर में 50 से ज्यादा कुर्सी और 10 से ज्यादा टेबल के साथ ही कुछ लोग शराब पीते हुए भी दिखे।

 

 

आबकारी अधिकारी ने कमरे और हॉल को सील किया, भाजपा के नेताओं ने आहता चलाने और किराये से देने वाले पर कानूनी कार्यवाही की माँग की। भाजपा नेताओं ने स्पष्ट आरोप लगाया कि सरकार, आबकारी विभाग, पुलिस प्रशासन और कांग्रेस के विधायकों के संरक्षण में राजधानी रायपुर में अवैध रूप से शराब दुकानों के साथ आहता भी चलाया जा रहा है। खुल कर कमीशन खोरी के साथ सार्वजनिक स्थानों पर अवैध रूप से शराब पिलाने की प्रवित्ति को बढ़ावा दिया जा रहा है । यह सब बन्द होना चाहिए प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार को शराब बन्दी का वादा निभाना चाहिए । भाजपा का आंदोलन आगे भी जारी रहेगा ।