सरगुजा। CG NEWS : छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग में इन दिनों हाथियों के आतंक से ग्रामीण दहशत के साए में जीने को मजबूर है दरअसल पिछले कई दिनों से सरगुजा जिले के उदयपुर वनपरिक्षेत्र में 10 हाथी तो वही लुंड्रा अंबिकापुर बतौली वनपरिक्षेत्र में 3 हाथीयों ने ग्रामीणों के घरो को तोड़ रहे है।तो वही किसानों के फसलों को भी नुकसान पहुँचा रहे है।

 

 

आज तड़के सुबह 4 बजे अंबिकापुर शहर से लगे ग्राम भकुरा में तीन हाथियों के दल ने मक्के की फसल की देखरेख कर रहे किशुन और उसकी पत्नी गुड्डी पर हाथियों ने हमला कर दिया।वही किशुन की पत्नी को हाथियों ने कुचल दिया।जिसकी मौके पर ही मौत हो गई। तो वही मृतिका का पति भागने में सफल रहा और किसी तरह हाथियों से बचते.बचाते हुए गांव पहुंचे तब कहीं जाकर गांव वालों को इसकी सूचना दी कि हाथियों का विवरण इस क्षेत्र में हो रहा है और उसकी पत्नी की मौत की जानकारी भी गांव वालों को बताया। वही ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुँची वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों को सतर्क रहने की समझाइश दी। साथ ही मृतिका के अंतिम संस्कार के लिए तत्काल 25000 की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की गई है। वहीं वन विभाग द्वारा लगातार हाथियों के विचरण क्षेत्र में नहीं जाने की अपील भी की जा रही है।जिससे कि किसी भी तरीके से जान.माल की हानि ना हो सकें।