Rajasthan CM tentative Name: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने साफ कर दिया है कि वो कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव (Congress President Election) लड़ने जा रहे हैं और जल्द ही इसके लिए नामांकन भरेंगे. इस बीच राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ‘वन मैन वन पोस्ट’ का समर्थन करते हुए संकेत दिए हैं कि अगर अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री का पद छोड़ना पड़ेगा.

किसी करीबी को सीएम बना सकते हैं अशोक गहलोत

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) कांग्रेस अध्यक्ष बनने के लिए राजी हो गए हैं और उन्हें अध्यक्ष बनने की स्थिति में राजस्थान के मुख्यमंत्री का पद छोड़ना पड़ सकता है. अगर गहलोत को मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ता है तो वे अपनी पसंद के किसी चेहरे को सीएम बनाने के लिए प्रस्ताव पार्टी आलाकमान के सामने रख सकते हैं.

कौन-कौन है सीएम की रेस में आगे?

सचिन पायलट: अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी आलाकमान सचिन पायलट (Sachin Pilot) को मुख्यमंत्री बना सकता है. अगर विधायकों की सहमति होती है तो पायलट को मुख्यमंत्री पद मिलना तय है.

सीपी जोशी: सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के करीबी का नाम सबसे आगे आ रहा है. कई रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि खुद अशोक गलहोत ने सीपी जोशी का नाम आगे बढ़ाया है. अगर कांग्रेस आलाकमान गहलोत के बताए नाम पर राजी हो जाता है तो सीपी जोशी का अगला सीएम बनना तय है.

शांति धारीवाल: राजस्थान में सियासी संकट के दौरान शांति धारीवाल ने सचिन पायलट की जमकर खिलाफत की थी और सीएम अशोक गहलोत का साथ दिया था. धारीवाल को गहलोत का करीबी माना जाता है, ऐसे में शांति धारीवाल को भी इस पद की जिम्मेदारी मिल सकती है.

गोविंद सिंह डोटासरा: राजस्थान में मुख्यमंत्री बदलने के साथ ही अध्यक्ष भी बदलने की योजना है और गोविंद सिंह डोटासरा की जगह सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है. ऐसे में गोविंद सिंह डोटासरा को कैबिनेट में जगह मिल सकती है.