रात में चोरी करने वाले  गिरोह पर बस्तर पुलिस की कार्यवाही 
सुने एवं ताला लगे मकानों को निशाना बनाकर किया जाता था चोरी।
 
दिन में शहर में घुमकर करते थे रैकी।
वेशभुषा बदलकर दिया जाता था घटना को अंजाम ।
 
धरमपुरा, गंगानगर वार्ड, तेतरकुटी एवं बैलाबाजार में घटना को दिया गया था अंजाम।
आरेापी मारेंगा एवं गीदम नाका क्षेत्र के निवासी।
 
कार्यवाही थाना बोधघाट क्षेत्रान्तर्गत।
 
03 आरेापी एवं 01 किशोर बालक पर कार्यवाही।
जप्ती- 10,200/-रूपये नगद, चांदी के पायल 04 नग, बिछिया 04 नग, चांदी के सिक्के 02 नग, चांदी का सिंदुर डब्बा 01 नग, मोबाईल 02 नग, इसके अतिरिक्त लोहे का टी-राॅड औजार, बटनदार चाकु।
जप्तशुदा सम्पत्ति की अनुमानित कीमत लगभग 50,000/-रूपये
नाम आरोपी
1. दशरथ राजपुत उर्फ बीनु पिता शरद सिंह राजपुत, उम्र 19 वर्ष, निवासी गीदम रोड, गंगानगर वार्ड जगदलपुर जिला बस्तर (छ.ग.)
2. भोजराज @भोजराम मानिकपुरी@ भोजो,  पिता गणेश राम मानिकपुरी उम्र 19, निवासी बडे मारेंगा, थाना परपा, जिला बस्तर (छ.ग.) ।
3. दीपक सेठिया पिता भगत सेठिया उम्र 19 वर्ष, निवासी बडे मारेंगा, थाना परपा, जिला बस्तर (छ.ग.) ।
4. 01 किशोर बालक
हिंदुस्तान समाचार जगदलपुर उप पुलिस महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  जितेन्द्र सिंह मीणा के नेतृत्व में बस्तर पुलिस द्वारा आपराधिक तत्वों के विरूद्ध लगातार कार्यवाही किया जा रहा है।
इसी तारतम्य में जगदलपुर शहर में सुने मकानो में ताला तोडकर चोरी करने वाले शातिर गिरोह पर कार्यवाही करने में बस्तर पुलिस को बडी सफलता मिली है। ज्ञात हो कि शहर के अलग अलग क्षेत्रो से रात्रि में सुने मकान के ताला तोडकर चोरी होने के संबंध में रिपोर्टें प्राप्त हुई थी जिन पर थाना बोधघाट एवं थाना कोतवाली में चोरी का अपराध दर्ज कर अनुसंधान में लिया गया था।
  मामले में उप पुलिस महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा के मार्गदर्शन तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाॅल एवं नगर पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार के पर्यवेक्षण में माल मुल्जिम की पता तलाश किया जा रहा था।
मिशन सिक्योर सिटी अन्तर्गत लगाये गये सी.सी.टी.व्ही. कैमरे से प्राप्त फुटेज एवं तकनीकी साक्ष्य संकलित कर आरोपी की पतासाजी किया जा रहा था। जिस दौरान थाना बोधघाट को सूचना प्राप्त हुआ
कि बैला बाजार राउतपारा क्षेत्र में कुछ संदेही रात में चोरी की नियत से संदिग्ध अवस्था में घुमते देखे गये है। सूचना पर थाना प्रभारी बोधघाट लालजी सिन्हा के नेतृत्व में टीम गठित कर कार्यवाही हेतु बैलाबाजार राउतपारा की ओर रवाना किया गया था। उक्त टीम के द्वारा संदेह के आधार पर 04 व्यक्तियों की पहचान कर घेराबंदी कर पकड़ा गया है
जिनसे पूछताछ करने पर जिन्होने अपना-अपना नाम (1)दशरथ राजपुत @ बीनु निवासी गीदम रोड जगदलपुर , (2) दीपक सेठिया निवासी बडे मारेंगा, (3). भोजराम @ भोजराज मानिकपुरी बडे मारेंगा एवं (4) 01 अन्य किशोर बालक होना बताये। जिनसे विधिवत् पूछताछ करने पर जिन्होनें शहर के सुने मकानो में ताला तोडकर चार जगह पर चोरी करना स्वीकार किये है। मामले में उक्त चारों से चोरी किए गए राशि और सामान और चोरी में प्रयुक्त औजार , हथियार बरामद कर जप्त किया गया है,  तीन आरोपियों को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय रवाना किया गया है एवं 01 अन्य किशोर बालक के विरूद्ध विधिवत् कार्यवाही कर किशोर न्याय बोर्ड जगदलपुर  भेजा गया है।

प्रकरण

(1). अपराध क्रमांक 169/2022 , धारा 457,380 भादवि. – (थाना केातवाली ):-
दिनांक – 07.05.2022 को चारो के द्वारा धरमपुरा के कैलाश होटल के सामने सुने मकान का ताला तोडकर सोने का झुमका एवं 7000/-रूपये नगदी चोरी करना स्वीकार किया गया।
(2).अपराध क्रमांक 175/2022 धारा 457,380 भादवि – (थाना बोधघाट )
दिनांक 08.08.2022 को तेतरकुटी के सुने मकान का ताला तोडकर चाॅदी के  सिक्के व 01 डिजिटल घडी चोरी करना बताया गया।
*(3). अपराध क्रमांक 223/2022 धारा 457,380 भादवि. – (थाना बोधघाट )*:-
दिनांक 28.08.2022 को गंगानगर वार्ड शीतला होटल के पीछे सुने मकान का ताला तोडकर चाॅदी के पाॅयल 03 नग, चांदी का अंगुठी 03 नग, चांदी का कडा एवं 20,000/-रूपये नगदी चोरी करना स्वीकार किया गया है।
(4). अपराध क्रमांक 224/2022 , धारा 457,380 भादवि. एवं 25,27 आम्र्स एक्ट – (थाना बोधघाट)
दिनांक 20.09.2022 को बैलाबाजार राउतपारा के सुने मकान का ताला तोडकर चाॅदी का सिंदुर डिब्बा, पाॅयल 01 नग, बिछिया एवं चांदी के सिक्के चोरी करना स्वीकार किये है।

तरीका वारदात:-

मामले का मुख्य अभियुक्त दशरथ राजपुत उर्फ बीनु गीदम रोड जगदलपुर का निवासी है। जिसका परिचय दीपक सेठिया, भोजराज@भोजराम मानिकपुरी एवं 01 अन्य किशोर बालक सभी बडे मारेंगा के साथ है।
कि अभियुक्त दशरथ राजपुत दिन में शहर के अलग-अलग जगहो में रेकी कर सुने मकान की जानकारी लेता था और रात में बडे मारेंगा से अन्य अभियुक्त रात में जगदलपुर आते थे और मुख्य आरोपी दशरथ उर्फ बीनु के बताये अनुसार सुने एवं ताला लगे हुए मकानों का ताला तोड़कर अन्दर रखे सोने-चांदी के जेवरात एवं नगदी राशि को चोरी करते थे एवं चोरी से प्राप्त सम्पत्ति एवं राशि को आपस में बाॅट लेते थे। मामले के आरोपी अपना पहचान छुपाने के लिए ग्रामीण वेशभुषा धारण कर घटना को अंजाम देते थे।

बरामद सम्पति:-

1. नगद 10,200/-रूपये
2. चांदी के पायल – 04 नग।
3. बिछिया – 04 नग।
4. चांदी का सिंदुर डिब्बा – 01 नग ।
5. चांदी के सिक्के – 02 नग।
6. मोबाईल – 02 नग।
7. बटनदार चाकु – 01 नग।
8. लोहे का टी राॅड – 01 नग।

महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले  अधिकारी:-

निरीक्षक – लालजी सिन्हा, एमन साहू
उनि0-  प्रमोद ठाकुर ,
सउनि. -शैलेन्द्र राय, दिनेश उसेण्डी, विष्णु प्रसाद देवांगन
प्र.आर. – चोवादास गेंदले, उमेश चन्देल, पवन श्रीवास्तव,
आरक्षक  – भुपेन्द्र नेताम, राजकुमार कतलम, तोमेश्वर चन्द्राकर, अजय चन्द्राकर, डोमेन्द्र ठाकुर