VIDEO : तो इसलिए कहा जाता है डॉक्टर को भगवान !, अस्पताल पहुंचने के लिए सर्जन ने लगाई 45 मिनट की दौड़, देखें वायरल वीडियो

 

ग्रैंड न्यूज़ डेस्क। VIDEO :एक मरीज के लिए डॉक्टर भगवान होता है. डॉक्टर को हमेशा भगवान की श्रेणी दी जाती रही है. अब इससे जुड़ा एक चौंका देने वाला किस्सा बेंगलुरु में सामने आया है. वीडियो देख लोग कह रहे हैं.. इसे कहते हैं कर्तव्य का सच्चा भाव! दरअसल बेंगलुरु में बारिश के चलते ट्रैफिक की समस्या इन दिनों आम है. ट्रैफिक में फंसने के बाद डॉक्टर ने अस्पताल पहुंचने के लिए अपनी कार छोड़ दी और सड़क पर दौड़ लगाना शुरू कर दी. आइये आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला.

 

45 मिनट तक दौड़कर पहुंचे अस्पताल

रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि बीती 30 अगस्त को डॉक्टर अस्पताल आते वक्त लंबे ट्रैफिक जाम में फंस गए. जाम जल्दी न खुलने की सूरत में वे बीच सड़क पर कार से उतर गए और करीब 45 मिनट तक दौड़कर अस्पताल पहुंचे. सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में डॉक्टर को सर्जरी करने के लिए अस्पताल पहुंचने के लिए बेंगलुरु की सड़कों पर दौड़ते हुए देखा जा सकता है.

 

 

 

 

कार से उतरकर भागने लगे

बेंगलुरु के मणिपाल अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर गोविंद नंदकुमार को देखकर हर कोई हैरान रह गया. वह 30 अगस्त को अस्पताल के लिए निकले थे. लेकिन भारी बारिश के कारण सड़कों पर पानी भर गया और वह सरजापुर-मराठाहल्ली मार्ग पर जाम में बुरी तरह फंस गए. डॉक्टर को अस्पताल में मरीजों के गालब्लैडर की सर्जरी करनी थी. तो मरीजों के बारे में सोचते हुए नंदकुमार आखिरकार कार से उतर कर भागने लगे.

 

हर कोई कर रहा तारीफ

डॉक्टर ने कहा कि मुझे मणिपाल अस्पताल पहुंचना था. भारी बारिश और हर जगह जल-जमाव के कारण सड़क कई किमी तक जाम रही. मैं समय बर्बाद नहीं करना चाहता था. मरीज मेरा इंतजार कर रहे थे. इसलिए मैंने दौड़ने का फैसला किया.  रिपोर्ट के मुताबिक नंदकुमार ने पिछले 18 वर्षों में कई जटिल सर्जरी की हैं. एक चिकित्सक के रूप में भी उनकी ख्याति है. डॉक्टर जिस तरह से मरीजों के बारे में सोचकर अस्पताल की तरफ भागे, उससे हर कोई उनका फैन हो गया है.