देवरिया। ACCIDENT NEWS : उत्तर प्रदेश में देवरिया के सदर कोतवाली क्षेत्र में बीती देर रात दशहरा मेले की भीड़ में घुसे बेकाबू ट्रक ने तमाम लोगों को कुचल दिया, जिससे मेला घूमने आई दो बच्चियों की दर्दनाक मौत हो गई और एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गयी। पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने बुधवार को बताया कि सदर कोतवाली क्षेत्र में एक ट्रक मारवाड़ बेकाबू होकर बालिक इंटर कालेज के पास चल रहे मेले की भीड़ में घुस गया। मेला देखने आयी रूपई गांव की दो चचेरी बहनों त्रिशा यादव (3 साल) और साक्षी (13 साल) को रौंदता हुआ निकल गया।

इस घटना में दोनों बच्चियों की मौत हो गई, जबकि एक बच्ची शालू (12 साल) गंभीर रूप से घायल हो गयी। बेकाबू ट्रक ने सड़क किनारे खड़ी आधा दर्जन मोटर साइकिलों को भी रौंद डाला। बच्ची को उपचार के लिये डाक्टरों ने गोरखपुर मेडिकल कालेज रेफर कर दिया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ट्रक चालक को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस घटना से मेले में अफरातफरी मच गई। घटना से आक्रोशित लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने लाठी भांजकर लोगों को खदेड़ा। हंगामे के दौरान मची भगदड़ में कई लोगों को चोटें आई हैं।

बच्चियों की मौत की खबर फैलते ही भीड़ का गुस्सा फूट पड़ा। लोंगों ने ट्रक को घेर लिया। चालक मौका पाकर ट्रक से कूदकर फरार हो गया, जबकि खलासी को भीड़ ने पकड़ लिया और जमकर पिटाई की। कोतवाली से चंद कदम की दूरी पर हुए हादसे के बाद पुलिस का कहीं पता नहीं था, जिससे गुस्साए लोगों ने ट्रक में आग लगाने का प्रयास किया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, एसडीएम सौरव सिंह सीओ सिटी श्रीयश त्रिपाठी समेत अन्य अधिकारियों ने भीड़ को समझा-बुझाकर शांत किया और आगे की कार्यवाही शुरू की।