सैनिटरी नैपकिन को लेकर एक स्टडी( stud में अहम खुलासा किया गया है। एक नए अध्ययन में पाया गया है कि भारत में व्यापक रूप से उपलब्ध सैनिटरी पैड में कैंसर ( cancer)पैदा करने वाले रसायन पाए गए हैं। यह एक चौंकाने वाला चिंताजनक तथ्य है

Read more : CG ACCIDENT NEWS : पेड़ से टकराई तेज रफ्तार कार, हादसे में बैंक मैनेजर समेत 2 लोगों की मौत, छुट्टी मनाकर लौट रहे थे घर

एनजीओ टॉक्सिक्स लिंक की ओर से की गई यह स्टडी इंटरनेशनल पोल्यूटेंट एलिमिनेशन के टेस्ट ( test)का एक हिस्सा है, जिसमें भारत में सैनिटरी नैपकिन बेचने वाले 10 ब्रांड्स के प्रॉडक्ट्स को शामिल किया गया। स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं को सभी सैंपलों में थैलेट (phthalates) और वोलेटाइल ऑर्गेनिक कंपाउंड (VOCs) के तत्व मिले। चिंता की बात है कि यह दोनों दूषित पदार्थ कैंसर की सेल्स बनाने में सक्षम होते हैं।

भारत में उपलब्ध 10 ब्रांडों के पैड( pad)

भारत में उपलब्ध 10 ब्रांडों के पैड (जैविक और अकार्बनिक सहित) का परीक्षण किया और सभी नमूनों में थैलेट और वाष्पशील कार्बनिक यौगिकों की मौजूदगी पाई गई।