Udaipur Crime : राजस्थान के उदयपुर से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. इस जघन्य, बर्बर दोहरे हत्याकांड की कहानी सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी. पुलिस ने एक ऐसे तांत्रिक को धार दबोचा है, जिसने टोना-टोटका के बहाने शादीशुदा युवक और उसकी प्रेमिका को शारीरिक संबंध बनाने के लिए कहा, और उस दौरान उन पर पहले फेवीक्विक फेंका और बाद में चाकू और पत्थरों से उनके प्राइवेट पार्ट पर वार कर दोनों को मौत के घाट उतार दिया.

इन्हें भी पढ़े : CG CRIME NEWS : दसवीं क्लास की छात्रा से रेप, इंस्टाग्राम पर फ्रेंडशिपकर लड़के ने किया दुष्कर्म, पुलिस ने किया गिरफ्तार…

उदयपुर के गोगुन्दा थाना इलाके में हुई युवक युवती के हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनी खेज खुलासा करते हुए हत्या के आरोप में एक तांत्रित भालेश जोशी को गिरफ्तार किया है. पूछताछ में आरोपी ने कई सनसनी खेज खुलसा किए है. उसने बताया कि लम्बे समय से तीनों एक दूसरे को जानते थे. युवक और युवती द्वारा उसे बदनाम करने की धमकी दी जा रही थी. इसी के चलते दोनों को मौत के घाट उतार दिया.

SSP कुंदन कवरिया ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि तात्रिक भालेश जोशी गोगुन्दा के भादवी गुडा में तंत्र विद्या का काम करता है. क्षेत्र में उसकी अच्छी पैठ है. लोग अपने कष्टों के निवारण के लिए उसके पास आते हैं. युवती सोनु कुंवर का वैवाहिक जीवन अस्त व्यस्त चल रहा था. इसी को लेकर वह लगातार वहां आती थी. भालेश ने उसके लिए एक ताबीज भी बनाया था. भालेश और सोनू के आपस में मधुर संबंध थे. युवक राहुल मीणा भी तांत्रिक के यहां आने लगा. जहां उसके और सोनू की पहचान हुई.

दोनों में मेल-जोल बढने लगा, जिससे दोनों एक दूसरे के करीब आ गए. इसकी जानकारी जब तांत्रित ने राहुल की पत्नी को दी तो उसने इसका समाधान करने के लिए कहा. इसके लिए भालेश ने पूजा भी करवाई. लेनिक राहुल और सोनू की एक दूसरे से अलग नहीं हो रहे थे. भालेश ने जब दोनों पर अगल होने का दबाव बनाया तो वह उसे ही ब्लैकमेल करने लगे. सोनू ने भालेश को उनके संबंधों का खुलासा करते हुए बदनाम करने की धमकी दी.

Udaipur Crime: Tantrik called both of them on the pretext of trick, put feviquik while making relationship, then killed by crushing head with stone

इन्हें भी पढ़े : CRIME NEWS : पिता ने की बेटी की हत्या, परिवार ने भी दिया साथ, शव को लाल ट्रॉली बैग में पैककर फेंका

Udaipur Crime :  इस तरह उतरा मौत के घाट 

सोनू ने जब तांत्रिक भालेश को ब्लैकमेल करना शुरू किया तो परेशान हो कर उसने दोनों की हत्या करने की मन बना लिया. हत्या की वारदात को अंजाम देने से पहले भालेश ने पूरी योजना तैयार कर ली. उसने पहले बाजार से करीब 50 फेवीक्विक खरिदी. जिससे एक डिब्बे में भर लिया. फिर 15 नवम्बर को तांत्रित दोनों को विशेष पूजा के बहाने उबेश्वर महादेव मंदिर के पास के जंगल में सुनसान इलाके में लेकर पहुंचा. जहां उसने दोनों को अगल होने से पहले एक बार फिर से संबंध बनाने की बात कही और खुद दूर जा कर खडा हो गया.

जब सोनू और राहुल एक दूसरे के साथ संबंध बना रहे थे तो मौका पा कर तांत्रित भालेश ने अपने पास रखी फेवीक्विक को उसने ऊपर उड़ेल दिया. फेवीक्विक उनकी आखों और मूंह में चली गई. दोनों कुछ सझम पाते, उससे पहले भालेश ने उन पर चाकू से हमला कर दिया. इस दौरान जब दोनों अगल हुए तो उनके शरीर के प्राईवे पार्ट भी छिन्न-भिन्न हो गए. दोनों की हत्या के बाद उनकी पहचान नहीं हो सके इसके लिए भालेश ने पत्थरों ने उनकी मुंह पर वार किया और फिर वहा से बाइक लेकर अपने घर आ गया. इसके बाद वह अपने एक शिष्य के यहा पर चला गया.

Udaipur Crime : ऐसे हुआ मामले का खुलासा

सुचना मिलते ही SP विकाश शर्मा सहीत तमाम आलाधिकारी मौके पर पहुंचे. एसपी शर्मा के निर्देश पर मामले का खुलसा करने के लिए विशेष टीम का गठन किया. पुलिस की टीम ने ऑनर किलिंग सहीत तमाल एंगल पर अपने जांच को आगे बढाया. लेकिन जब पुलिस की टीमों ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो एक संदिग्ध को चिह्नत किया. जिसकी पहचान तांत्रित भालेश के रूप में हुई. पुलिस ने जब कॉल डिटेल की जांच की तो तीनों की लोकेशन एक ही आई. इस पर पुलिस ने भालेश को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया.

Udaipur Crime : ये था मामला

18 नवंबर को गोगुन्दा थाना पुलिस को क्षेत्र उभेश्वरजी के जंगल में युवक-युवती के नग्न शवों के मिलने की सूचना मिली. जहाँ पुलिस मौके पर पहुंची. युवक के शव का प्राइवेट पार्ट भी कटा था. पुलिस ने घटना स्थल पर मिले शाक्ष्य के आधार पर युवक की पहचान राहुल मीणा (32) पुत्र चतरसिंह मीणा और युवती की मदार गांव निवासी सोनू (31) पुत्री भूरसिंह के रूप में की. युवक उदयपुर के अदवास के सरकारी स्कूल में टीचर था. शुरुआती जांच में मामला प्रेम-प्रसंग का लग रहा था.