आप भी यूपीआई पेमेंट (UPI Payment) का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए बड़ी खबर है. यूपीआई पेमेंट सिस्टम (UPI Payment System) में जल्द ही बड़ा चेंज होने वाला है, जिसका असर देश के करोड़ों यूजर्स पर पड़ेगा।

Read more : UPI यूज करते हैं तो जान लें नया नियम: ऐप आपकी परमिशन के बिना नहीं करेंगे ये काम

बता दें यूपीआई पेमेंट सर्विस की सेवा देने वाले ऐप्स जल्द ही हर दिन होने वाले ट्रांजेक्शन पर लिमिट ( limit)लगाने जा रहे हैं. इसको लेकर के जोरों से तैयारियां चल रही हैं. नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) देश के थर्ड पार्टी ऐप( party app) प्रोवाइडर्स (TPAP) के वॉल्यूम कैप को 30 फीसदी तक सीमित करने की तैयारी कर रहा है।

31 दिसंबर तक हो सकता है फैसला( decision) 

बता दें इस समय एनपीसीआई सभी तरह का मूल्यांकन कर रहा है, जिसके बाद में ही इसकी लिमिट को तय किया जाएगा। रिपोर्ट के मुताबिक, 31 दिसंबर तक इस पर फैसला लिया जा सकता है।

प्राइवेट सेक्टर के ICICI Bank की बात करें तो उसकी लिमिट 10,000 रुपये

एसबीआई ने यूपीआई ट्रांजेक्शन की एक दिन की लिमिट को 1 लाख कर रखा है. वहीं, प्राइवेट सेक्टर के ICICI Bank की बात करें तो उसकी लिमिट 10,000 रुपये है. साल 2020 में NPCI ने लेन-देन के हिस्से को कैपिंग करते हुए एक निर्देश जारी किया था कि एक थर्ड पार्टी एप्लीकेशन प्रोवाइडर 1 जनवरी, 2021 से यूपीआई पर लेनदेन की वॉल्यूम का 30 फीसदी पर सेट कर सकता है।