नई दिल्ली : Kanjhawala death case : एक जनवरी की रात दिल्ली के सुल्तानपुरी में अंजलि सिंह की स्कूटी की टक्कर बलेनो से हो गई और 12 किलोमीटर तक कार से उसे घसीटा गया, जिस वजह से उसकी मौत हो गई थी. वहीं इस हादसे के सभी 5 आरोपियों को आज गुरुवार दिल्ली की अदालत ने 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

इन्हें भी पढ़ें : Kanjhawala death case : सहेली ने दिया बयान, बोली- अंजलि नशे में थी, हादसे की रात फिर

अंजलि सिंह की स्कूटी को नए साल वाली रात को एक कार ने ठोकर मार दी थी और हादसे के बाद वह कार में फंसकर 12 किलोमीटर तक घिसटती गई थी. उसका शव बाहरी दिल्ली के कंझावला में मिला था. कार में सवार पांच लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों को 2 जनवरी को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया था, जिसकी अवधि आज समाप्त हो रही थी.

इस हादसे में पांचों आरोपियों की 3 दिन की रिमांड खत्म होने के बाद पुलिस ने उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये रोहिणी कोर्ट में पेश किया. पुलिस ने कोर्ट में कहा, ’31 दिसंबर की रात को हादसा हुआ, 13 किलोमीटर तक बॉडी को गाड़ी से घसीटा गया है, 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, 2 लोगों को और गिरफ्तार करना है.’ इसके बाद दिल्ली पुलिस ने पांचों आरोपियों की 5 दिन की पुलिस रिमांड बढ़ाने की मांग की.

इन्हें भी पढ़ें : Kanjhawala accident case : मृत लड़की के परिजनों को CM केजरीवाल ने 10 लाख मुआवजे का किया ऐलान

फिर कोर्ट ने पूछा कि 5 दिन की रिमांड क्यों मांग रहे है, 3 दिन की रिमांड में क्या किया? इसके जवाब में पुलिस ने बताया, ‘CCTV फुटेज निकाला है, पेट्रोल पंप और दूसरी जगह की मुरथल का ‘CCTV फुटेज अभी नहीं मिल पाया है.’ दिल्ली पुलिस ने बताया कि 2 घंटे का 13 किलोमीटर का रूट है, एक-दूसरे आरोपियों को एक-दूसरे के सामने पूछताछ करवानी है.

दिल्ली पुलिस ने कहा कि जांच को आगे बढ़ाना है, मामले में दो आरोपियों को और गिरफ्तार करना है. इसके बाद, आरोपियों के वकील ने 5 दिन के लिए रिमांड बढ़ाने की पुलिस की मांग का विरोध करते हुए कि हम जांच में शामिल होने के लिए तैयार हैं. दोनों तरफ की दलीलें सुनने के बाद मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सान्या दलाल ने पांचों आरोपियों को चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया.