सिटी कोतवाली गरियाबंद एवं स्पेशल टीम की संयुक्त कार्यवाही ।

गरियाबंद – होली के एक दिन पहले नगर के छत्तीसगढ़ हीरो शोरूम में हुई चोरी की घटना का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। शोरूम का मैनेजर मयूर सिद्धपारा ही मामले का मुख्य आरोपी निकला। सफाई कर्मचारी के मदद से घटना को दिया अंजाम।

शनिवार को अनुविभागीय अधिकारी पुष्पेंद्र नायक और सिटी कोतवाली थाना प्रभारी राकेश मिश्रा ने प्रेसवार्ता में इसका खुलासा किया।

जानकारी के मुताबिक मामला गरियाबंद के मुख्य मार्ग पर स्थित छत्तीसगढ़ ऑटो केयर हिरो शोरूम का है। दिनांक 04. 03.2023 को अज्ञात चोर के द्वारा शोरूम का ताला तोड़कर दराज में रखे 1 लाख 77 हजार रूपये नगदी तथा एक नग सीसीटीव्ही डीवीआर को चोरी कर ले जाने के सम्बंध में प्रार्थी मयुर सिद्धपुरा पिता किशोर सिद्धपुरा उम्र 34 साल निवासी लक्ष्मण चक्रधारी का मकान अम्बेडकर चौंक गरियाबंद की रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

मामले की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए जिला गरियाबंद के उप महानिरीक्षक पुलिस एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अमित तुकाराम कांबले के दिशा-निर्देश व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री चन्द्रेश सिंह ठाकुर के मार्गदर्शन तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरियाबंद श्री पुष्पेन्द्र नायक के पर्यवेक्षण में सिटी कोतवाली गरियाबंद तथा स्पेशल टीम का संयुक्त रूप से विशेष टीम का गठन किया गया। विशेष टीम के द्वारा आस-पास के समस्त सीसीटीव्ही कैमरों को खंगाला गया, सीसीटीव्ही में
दिनांक 05.03.2023 के शाम 04:50 बजे 02 व्यक्तियों के द्वारा शोरूम के शटर खोल कर प्रवेश करते दिखे।

जिसकी पहचान सेल्स मैनेजर एवं सफाई कर्मचारी के रूप में किया गया। मामले को गुमराह करते हुए सेल्स मैनेजर मयुर सिद्धपुरा के द्वारा घटना के दिनांक एवं समय को गलत बताकर थाने में चोरी की रिपोर्ट की गई थी। सीसीटीव्ही का बारिकी से अवलोकन करने पर किसी अन्य व्यक्ति के द्वारा शोरूम में प्रवेश करते नहीं दिखे। सेल्स मैनेजर की गतिविधियां संदिग्ध पाये जाने पर हिरासत में लेकर कड़ाई से पुछताछ किया गया।

सेल्स मैनेजर के द्वारा सफाई कर्मचारी उपेन्द्र बघेल के साथ मिलकर अपराध करना स्वीकार किया तथा घटना में प्रयुक्त पिठु बैग, हथौड़ा, पेचकस, सीसीटीव्ही डीवीआर व सम्पूर्ण रकम 1,77,000/- रू0 को व निशांदेही पर बरामद किया गया। साक्ष्य छुपाने हेतु सीसीटीव्ही डीवीआर को कोड़ोहरदी के जंगल में तोड़कर जला दिया था जिसे समक्ष गवाहों के जप्त किया गया ।
दोनों आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर माननीय न्यायालय भेजा गया। सिटी कोतवाली गरियाबंद एवं स्पेशल टीम के सदस्यों को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी राकेश मिश्रा ,ताराचंद रजक,स्पेशल टीम अंगद राव बाग, चूड़ामणि देवता ,जयप्रकाश मिश्रा,सुशील पाठक,यादराम ध्रुव,रवि सिन्हा,हरीश साहू की सराहनीय योगदान रहा

गिरफ्तार आरोपी :-

01. मयुर सिद्धपुरा पिता किशोर सिद्धपुरा उम्र 34 साल निवासी वार्ड नं0 25 शिवाजी बेस नाका दाण्डे स्वामी मंदिर जवल, अभय नगर थाना फर्सी चौंक जिला बुलड़ान (महाराष्ट्र) वर्तमान पता- लक्ष्मण चक्कधारी का मकान अम्बेडकर चौंक गरियाबंद थाना व जिला गरियाबंद छ0ग0।

घटना में प्रयुक्त पिठ्ठु बैग, हथौड़ा, पेचकस, सीसीटीव्ही डीवीआर व नगदी 1,77,000/-रू०