रायपुर। RAIPUR NEWS : राजधानी से दिल दहला देने वाली खबर सामने आ रही है, यहाँ मोतिमपुर खुर्द गांव में युवक ने अपनी पत्नी और बेटे की हत्या करके खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। घर के अंदर से 3 शव बरामद हुए हैं। पत्नी और 3 साल के बेटे का शव बिस्तर पर पड़ा था। पति का शव फांसी से लटका हुआ मिला है। मौके पर चूहे मारने की दवा भी मिली है। घटना के बाद से इलाके में सनसनी फ़ैल गई है। मौके पर पुलिस की टीम मौजूद है।

 

पूरा मामला खरोरा थाना क्षेत्र का है। मृतकों का नाम तुकेश सोनकेवरे (27 साल), पत्नी निक्की उर्फ नितिक्षा सोनकेवरे (24 साल) और निहाल है। फिलहाल हत्या और खुदकुशी के कारणों का पता नहीं चल पाया है। लेकिन बताया जा रहा है, परिवार आर्थिक तंगी से परेशान था। तुकेश सोनकेवरे मजदूरी का काम करता था। फिलहाल तीनों मृतकों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

ये है पूरा मामला

शनिवार सुबह पूरा परिवार काफी देर से दिखाई नहीं दे रहा था। तुकेश जिन मजदूरों के साथ काम पर जाता था, वे भी उसका इंतजार कर रहे थे। इसके बाद उनमें से कुछ परिचित उसे बुलाने के लिए उसके घर गए। उन्हें दरवाजा अंदर से बंद मिला। बार-बार खटखटाने और आवाज देने के बाद भी जब अंदर से कोई आवाज नहीं आई तो लोगों ने किसी अनहोनी की आशंका से घबराकर खरोरा थाना पुलिस को सूचना दी।

 

मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा खोला, तो अंदर का नजारा देखकर हैरान हो गए। कमरे के अंदर 3 लाशें पड़ी हुई मिली। पुलिस की टीम ने कहा, शुरुआती जांच से लग रहा है कि युवक ने रात के खाने में पत्नी और बच्चे को चूहे मारने की दवाई देकर मार दिया और फिर खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया।

 

पुलिस ने ये भी बताया कि महिला और बच्चे के शव पर चोट के कोई भी निशान नहीं मिले हैं। सोच-समझकर दोनों की हत्या पहले से प्लान बनाकर की गई है। आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है। मृतकों के रिश्तेदारों को सूचना दे दी गई है। पड़ोसियों से शुरुआती पूछताछ में पत्नी निक्की के हमेशा बीमार रहने की बात सामने आ रही है।

पुलिस ने ये भी बताया कि पूछताछ में पता चला है कि मृतका निक्की उर्फ नितिक्षा सोनकेवरे का मायका पलारी थाना क्षेत्र के बिनौरी गांव में है। बचपन में ही उसकी मां उसे और उसके पिता को छोड़कर दूसरी शादी कर ली थी। जिसके बाद इसका पालन-पोषण पिता और दादी ने किया। मायके वाले भी बेहद गरीब है। 18 साल की उम्र से पहले ही शादी कर दी गई थी।