दुर्ग। CG NEWS : जिले में शनिवार को तेज आंधी के साथ हुई बारिश ने दर्शन रावल के फैंस का दिल तोड़ दिया। आंधी और बारिश ने पूरे स्टेज को खराब कर दिया। लगातार रिमझिम बारिश के चलते रात 12 बजे तक दर्शन रावल का शो नहीं शुरू हो पाया। लास्ट में दर्शन बिना परफार्म किए ही रायपुर लौट गए। इससे महंगे दामों पर टिकट खरीद कर कार्यक्रम देखने पहुंचे लोगों का दिल टूट गया। तेज आंधी के चलते जयंती स्टेडियम में बनाया गया पंडित प्रदीप मिश्रा के आयोजन का पंडाल भी उड़ गया।

 

आपको बता दें कि 22 अप्रैल को भिलाई में छोगाड़ा तारा… गाने से फेम में आए सिंगर दर्शन रावल का कार्यक्रम था। यह कार्यक्रम भिलाई क्लब रायल क्रिस्टन गार्डन सिविक सेंटर में शाम 7 बजे से होना था। इसके लिए ओपन स्टेज तैयार किया गया था। इस कार्यक्रम की तैयारी पिछले एक महीने से चल रही थी। इसके लिए बड़ी संख्या में लोगों को तीन कैटेगरी में 750 रुपए से लेकर 5 हजार रुपए तक का टिकट बांटा गया था। बताया जा रहा है कि लगभग 90 प्रतिशत टिकट बिक चुके थे। 22 अप्रैल को कार्यक्रम से दो घंटे पहले हुई आंधी बारिश ने आयोजकों की तैयारी पर पानी फेर दिया।

 

पूरी रात होता रहा शोर

दर्शन रावल का कार्यक्रम देर रात तक शुरू नहीं हो पाने पर लोगों ने वहां जमकर शोर मचाया। बड़ी संख्या में लोग स्टेज तक पहुंचकर शोर शराबा कर रहे थे। हालांकि लोगों को शांत करने के लिए आयोजक लगातार ये कहते दिखे कि बारिश थमने वाली है, कार्यक्रम जल्द ही शुरू हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। बताया जा रहा है कि 12 बजे दर्शन ने ही मना कर दिया कि अब कार्यक्रम नहीं हो पाएगा और वो भिलाई से रायपुर के लिए निकल गए।

 

आंधी बारिश से आयोजन का पंडाल उड़ा

आंधी बारिश से उड़ा पंडित प्रदीप मिश्रा के आयोजन का पंडाल

भिलाई के जयंती स्टेडियम में 25 अप्रैल से पंडित प्रदीप मिश्रा सिहोर वाले यहां शिव महापुराण कथा सुनाएंगे। इस आयोजन की तैयारी के लिए पूरा शहर लगा हुआ है। आयोजन समिति ने एक लाख वर्ग फिट क्षेत्रफल में टेंट लगवाया था, जिससे भक्तों को कोई परेशानी न हो। शनिवार को आई तेज आंधी बारिश ने पूरे टेंट को बिगाड़ दिया। आंधी से टेंट का काफी हिस्सा उड़ गया। बताया जा रहा है कि इससे आयोजक को काफी बड़ा नुकसान हुआ था। हालांकि आयोजकों का कहना है कि आयोजन में वो किसी तरह की कमी नहीं होने देंगे। जल्द ही फिर से टेंट को तैयार कराने के लिए उनकी टीम जुटेगी।