रायपुर।छत्तीसगढ़( chhattisgarh) में बेमौसम बारिश और आंधी-तूफान के कारण सोमवार( monday) शाम को पति-पत्नी की मौत हो गई. जिले के सांकरा गांव में साप्ताहिक बाजार में गांव के देवलाल निषाद और उसकी पत्नी ईश्वरी निषाद चना मुर्रा बेचने के लिए बैठे थे.।

Read more : CG CRIME : पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 24 लाख का गांजा जब्त, फरार आरोपियों की तलाश में जुटी….

शाम को अचानक मौसम बदला और तेज हवा चलने लगी. जिस समय तूफान आया, तब बाजार में सब्जी व अन्य सामान बेचने वालों के साथ-साथ काफी संख्या में लोग भी मौजूद थे. तूफान के दौरान लोग बचने की कोशिश में लगे थे, वहीं व्यापारी अपना सामान बचाने की जुगत में थे, तभी आम का पेड़ जड़ के पास से ही गिर गया।इससे पेड़ के नीचे ही दुकान लगाकर बैठे पति-पत्नी दब गए।लोगों ने जैसे-तैसे पेड़ का तना हटाकर उन्हें निकालने की कोशिश की, लेकिन तब तक द॰ मौत हो चुकी थी।

छत्तीसगढ़ से दक्षिण तमिलनाडु तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित

रायपुर केंद्र के मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा के मुताबिक एक पश्चिमी विक्षोभ चक्रीय चक्रवाती परिसंचरण के रूप में पंजाब और उसके आसपास 3.1 से 7.6 किलोमीटर ( kilometer)ऊंचाई के बीच विस्तारित है. एक द्रोणिका / हवा की अनियमित गति दक्षिण छत्तीसगढ़ से दक्षिण तमिलनाडु तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है. इसके प्रभाव से 24 अप्रैल को क्षोभ मंडल के निम्न स्तर पर प्रचुर मात्रा में नमी युक्त अपेक्षाकृत ठंडी हवा आने की प्रबल संभावना है।