मध्यप्रदेश। OMG : झाबुआ से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जायेंगे। दरअसल, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत हुए विवाह सम्मलेन में दुल्हनों को दी गई मेकअप किट के अंदर कंडोम और गर्भनिरोधक टेबलेट मिलने से बवाल मच गया है।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत लड़कियों की शादी मुफ्त में कराई जाती है और साथ ही जोड़ों को गिफ्ट और धनराशि भी उपलब्ध कराई जाती है। उपहार पाकर दुल्हनें खुश होती हैं लेकिन इस बार कुछ ऐसा हुआ कि उपहार देखने के बाद दुल्हनों के होश उड़ गए। दरअसल, विवाह में दुल्हनों को मेकअप किट दिया गया था। जब दुल्हनों ने बॉक्स खोला तो उसमे से कंडोम और गर्भनिरोधक की गोलियां निकली जिसके बाद हर तरफ इसकी चर्चा होने लगी।

झाबुआ जिले के थांदला के दशहरा मैदान में आयोजित इस कार्यक्रम में सोमवार को 296 जोड़े एक साथ विवाह के बंधन में बंधे हैं। वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की यह योजना आमजन के बीच बेहद लोकप्रिय है लेकिन अफसरशाही इसको बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

इस मामले में प्रभारी सीईओ भूरसिंह रावत ने अपनी सफाई में कहा है कि यह सारा कारनामा स्वास्थ्य विभाग का है। दुल्हनों को मेकअप बॉक्स में ऐसा सामान दिये जाने को लेकर हंगामा मचा हुआ है। आपको याद दिला दें कि इससे पहले डिंडौरी में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत हुआ विवाद भी काफी चर्चा में रहा था। आऱोप लगे थे कि सामूहिक विवाह से पहले युवतियों का प्रेगनेंसी टेस्ट कराया गया था।

यहाँ देखें वीडियो….

 

इस मामले में कलेक्टर ने कहा था कि, “सामूहिक विवाह सम्मेलन से पहले सिकलसेल और एनीमिया का टेस्ट करवाया जाता है। जांच के दौरान पाँच लड़कियों ने बताया की उनके पिरियड्स मिस हो रहे हैं। जिसके बाद उनका प्रेग्नेंसी टेस्ट किया गया और रिपोर्ट पॉजिटिव आई।” कलेक्टर के मुताबिक लड़कियों ने बताया की उनकी शादी पहले हो चुकी है, जिसके बाद उन्हें योजना के लिए अपात्र घोषित किया गया।