स्मार्टफोन में गेम खेलने वाले यूजर्स पर खतरा मंडरा रहा है। VPN सर्विस प्रोवाइडर SurfShark के अनुसार यूजर्स की प्राइवेसी के लिए कॉल ऑफ ड्यूटी, कैंडी क्रश सागा और कैरम पूल डिस्क गेम खतरनाक हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि ये गेमिंग ऐप 32 में से 17 डेटा पॉइंट्स से यूजर्स के फोन में मौजूद डेटा को ऐक्सेस करते हैं। इसमें फोटो और वीडियो के अलावा कॉन्टैक्ट इन्फर्मेशन, लोकेशन डेटा और यूजर के कॉन्टैक्ट्स शामिल हैं।

50 सबसे ज्यादा पॉप्युलर ऐप्स की पड़ताल 
सर्फशार्क ने 60 देशों में 50 सबसे ज्यादा पॉप्युलर ऐप्स की पड़ताल की और सबसे ज्यादा डेटा ऐक्सेस करने वाले ऐप्स का पता लगाया। इसके लिए सर्फशार्क ने गेम्स की डेटा कलेक्शन हैबिट को समझने के लिए एक खास मेजरमेंट सिस्टम तैयार किया। इसमें गेम्स को डेटा ऐक्सेस करने के हिसाब से स्कोर भी दिया गया। इसमें यूजर्स की आइडेंटिटी से लिंक न होने पर 1 पॉइंट और यूजर्स की आइडेंटिटी से डेटा लिंक होने पर 2 पॉइंट दिए गए। वहीं, यूजर को ऐप और वेबसाइट पर ट्रैक करने वाले ऐप्स को एजेंसी ने 3 पॉइंट दिए।

यूजर्स को अलर्ट रहने की जरूरत
स्टडी के अनुसार दुनिया का 6वां सबसे पॉप्युलर गेम सबवे सर्फर्स का डेटा हंगर इंडेक्स 57.6 है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह गेमिंग ऐप कोर्स लोकेशन के साथ 12 डेटा पॉइंट्स से डेटा कलेक्ट करता है। इसी तरह लूडो किंग को भारत में प्राइवेसी के लिए अनसेफ गेम्स की लिस्ट में 38वें पायदान पर रखा गया है। यह सच है कि कुछ गेम्स को सही ढंग से काम करने के लिए कुछ डेटा को ऐक्सेस करना जरूरी होता है, लेकिन यहां यूजर्स को भी अलर्ट रहते हुए इस बात पर नजर रखनी चाहिए कि गेम फोन के कौन से डेटा को ऐक्सेस कर रहा है।

फ्रांस बनाता है सबसे ज्यादा डेटा ऐक्सेस करने वाले गेमिंग ऐप
सर्फशार्क की रिपोर्ट के अनुसार फ्रांस दुनिया में सबसे ज्यादा डेटा ऐक्सेस करने वाले ऐप बनाता है। इनका ऐवरेज इंडेक्स 42 पर्सेंट के आसपास है। इन ऐप्स की संख्या 100 है। यूएस की बात करें तो यह 48 डेटा हंगरी ऐप बनाता है और इनका डेटा ऐक्सेस इंडेक्स 35 पर्सेंट है। इसी तरह भारत में 13 ऐसे ऐप बनते हैं और इनका इंडेक्स 27.1 प्रतिशत है।