गणेश चतुर्थी का विशेष महत्व है. पूरे देश में गणेश चतुर्थी को बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है. सभी देवों में प्रथम आराध्य देव श्री गणेश की पूजा करने और उन्हें प्रसन्न करने का त्योहार इस साल 10 सितंबर से शुरू हो रहा है. इस दिन भगवान गणेश विराजेंगे और 19 सितंबर यानी अनंत चतुर्दशी के दिन उन्हें विदा किया जाएगा. गणेश चतुर्थी पर भगवान की भव्य मूर्तियों के साथ पंडाल भी स्थापित किए जाते हैं. मिठाई की दुकानों पे काउंटरों पर विभिन्न प्रकार के मोदक, बर्फी और लड्डू रखे जाते हैं.

read more: Ganesh Chaturthi 2023 : गणेश स्थापना का शुभ मुहूर्त जानिए, रायपुर में चंद्रयान 3 के तर्ज पर बनाई गई है पंडाल

सतोरी एक महाराष्ट्रीयन मीठी चपटी रोटी है, और महाराष्ट्र के सबसे पसंदीदा सेलिब्रेश रेसिपीज में से एक है. इसे खोया या मावा, घी, बेसन और दूध से बना बनाया जाता है. आप इसे गणेश चतुर्थी के मौके पर बना सकते हैं.

2. श्रीखंडः

श्रीखंड एक इंडियन स्वीट है जिसे दही से बनाया जाता है, और ये महाराष्ट्र और गुजरात में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है. यह चंकी नट्स और किशमिश के साथ सबसे ऊपर है. इसे गणेश चतुर्थी पर बना सकते हैं.

3. केला शीराः

केले का शीरा बनाने में आसान और टेस्टी स्वीट डिश है, जो भगवान गणेश को प्रसाद में चढ़ाई जाती है. इसे मैश किए हुए केले, सूजी और चीनी से बने शीरे से बनाया जाता है. यह हलवा जैसा होता है.

4. मोतीचूर लड्डूः

भगवान गणेश को मोदक के अलावा लड्डू भी बहुत पसंद हैं. मोतीचूर के लड्डू उनके भोग में उन्हें चढ़ाए जाने वाले लड्डू के सबसे आम रूपों में से एक है. जिसे आप गणेश चतुर्थी के मोके पर बना सकते हैं.

रोट प्रसाद रेसिपी-Rot prasad recipe in hindi

रोट प्रसाद बनाने के लिए आपको ज्यादा चीजों की जरूरत नहीं है। इसके लिए आपको चाहिए

-आटा
-गुड़
-नारियल कद्दूकस किया हुआ
-घी
-सफेद तिल
-इलायची
-तेल

बनाने की विधि-

-रोट प्रसाद बनाने के लिए पहले गुड़ को पिघला लें या फिर इसे तोड़कर पाउडर बना लें।
-अब आटा लें और इसमें घी डालें और अच्छी तरह से मलते हुए मिलाएं।
-इसके बाद इसमें कद्दूकस किया हुआ नारियल डालें।
-फिर इलायची पाउडर बनाकर डालें।
-पानी डालें और इसे अच्छे से रोटी के आटे की तरह गूंद कर रख लें।