मध्यप्रदेश के खरगोन शहर की जैतापुर पुलिस चौकी क्षेत्र में एक सुने मकान में दिन दहाड़े लाखों की चोरी का सनसनीखेज मामला सामने आया है। अज्ञात बदमाशो ने सुने मकान का ताला तोड़कर अलमारी में रखे करीब 13 लाख रुपए कीमत के सोने चांदी के आभूषण सहित दो लाख रुपए नकदी उड़ा ले गये। घटना के दौरान बेटा ललित भटोरे और बहु रिश्तेदारी में धामनोद गये थे। वहीं बुजुर्ग मां महिला पुष्पा भटौरे पड़ोस में ही अपने भाई के यहां दोपहर में चली गई थी। इस दौरान चोरों ने चोरी की घटना को अन्जाम दिया। देर शाम मां के घर लौटने पर बड़ी चोरी का खुलासा हुआ है। सूचना मिलते ही मौके पर जैतापुर पुलिस और डॉग स्क्वाड टीम पहुंच गई है। डॉग स्क्वाड की मदद से पुलिस जांच में जुटी है।  दिनदहाड़े बड़ी चोरी की वारदात के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है।

लोगों की भीड़ जमा हो गई है। चोरों ने यहां भटोरे परिवार के घर को निशाना बनाकर सास- बहु के 13 लाख रुपए मूल्य के सोने- चांदी के आभूषणों के साथ 2 लाख रुपए नकदी पर हाथ साफ किया है। महज 4 घंटे के लिए महिला कॉलोनी में ही अपने रिश्तेदार के घर गई थी, लौटने पर चोरी का खुलासा हुआ।

पीड़ित पुष्पा भटौरे ने बताया कि उनका बेटा ललित और बहु खुशबू रविवार सुबह 10 बजे रिश्तेदार के यहां कार्यक्रम में शामिल होने के लिए धामनोद गए थे। दोपहर 1 बजे वह बजरंग नगर में ही निवासरत अपने भाई जगदीश शर्मा के यहां गई। शाम साढे 5 बजे जब घर लौटी तो लोहे के गेट पर ताला लगा था। लेकिन प्रवेश द्वार का ताला खुला मिला। जब धक्का देकर दरवाजा खोलने का प्रयास किया तो दरवाजा खुला नहीं। अंदर लाईटे चालू थी, शंका होने पर पड़ोसियो को बुलाया। जब घर के पिछले हिस्से से जाकर देखा तो दरवाजा खुला था। घर में जाकर देखा तो सारा सामान अस्त- व्यस्त था। संभवतया चोर मुख्य द्वार से घर में प्रवेश करने के बाद पिछले हिस्से की करीब 6 फीट ऊंची बाउंड्रीवाल की दिवार फांदकर फरार हुए है।

पुष्पा भटोरे ने बताया कि 6 माह पहले ही बेटे की शादी हुई थी, पति सेवानिवृत्त हुए थे। कुछ समय पहले ही उनकी मौत हो गई। चोर अपने साथ सास और बहू दोनो के सोने- चांदी चैन, अंगूठी, कमरकंदोरा, मंगलसुत्र, बिछुडी, पायल, नथ, बिछिया, हार जैसे सोने- चांदी के आभूषण साथ ले गए। खास बात यह है कि चोर नकली आभूषण वहीं छोड़ गए। रिश्तेदार अतुल शर्मा ने मीडिया को बताया कि घर से करीब 15 लाख रुपए के आभूषण और नकदी चोरी हुए है। पुलिस प्रशासन से परिजन मदद की गुहार लगा रहे है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट, डॉग स्क्वाड की मदद से साक्ष्य जुटाने के साथ पूछताछ शुरु की है। घनी बस्ती में दिनदहाड़े चोरी के बाद बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए। जैतापुर पुलिस चौकी की एएसआई रेखा मंडलौई ने बताया मोबाइल पर सूचना मिली थी। पुलिस डॉग स्क्वाड की मदद से साक्ष्य जुटाने के साथ विवेचना कर रही है।