बलौदाबाजार : CG NEWS : देश में कोरोना के नए वेरिएंट के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ा दी है, वहीं कोरोना संक्रमण को लेकर शासन ने गाइडलाइन जारी कर दी है। वहीं दूसरी ओर बलौदा बाजार जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की गंभीर लापरवाही सामने आई है, जहाँ कोविड-19 की जांच के लिए आए रैपिड टेस्ट किट और बड़ी मात्रा में दवाइयों को खराब होने से पहले ही नगर पालिका के सोनपुरी स्थित डंपिंग ग्राउंड में फेंक दिया गया है। वही फेंकी गई दवाइयों कूड़ा में देखने को मिल मिला।

आपकों बता दें कि दवाइयों की अंतिम तारीख जुलाई 2024 तक है, इसके बावजूद भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने दवाइयों को कचरे में फेंकवा दिया। दवाओं और कोरोना टेस्ट किट के फेंके जाने की जानकारी पर कैबिनेट मंत्री टंक राम वर्मा ने मामला नया होने की बात कही, तो वही कलेक्टर चंदन कुमार ने मामले को गंभीर बताते हुए जांच कराने की बात कही।

CG NEWS : स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, कोविड-19 जांच के लिए आए रैपिड टेस्ट किट और बड़ी मात्रा में दवाइयां कचरे की ढेर में पड़ी मिली 

कोविड-19 जांच के लिए आए रैपिड टेस्ट किट और बड़ी मात्रा में दवाइयां कचरे की ढेर में पड़ी मिली