Mahadev Betting App Scam : दुर्ग पुलिस (Durg Police) ने लंबे समय से फरार महादेव सट्टा एप (Mahadev Betting App) के मास्टर माइंड दीपक सिंह उर्फ दीपक नेपाली को गिरफ्तार कर लिया है. दीपक के खिलाफ महादेव ऑनलाइन सट्टा, लूट, अपहरण समेत कई मामले है. दीपक पिछले एक साल से फरार चल रहा था. आरोपी दीपक नेपाली के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) भी लगाया गया था।

कैसे हुआ गिरफ्तार?

दुर्ग की क्राइम ब्रांच (Crime Branch Team) टीम ने मंगलवार देर रात दीपक को गिरफ्तार किया. दीपक नेपाली दुबई में बैठे महादेव ऑनलाइन सट्टा के संचालक सौरभ चंद्राकर (Saurabh Chandrakar) और रवि उप्पल (Ravi Uppal) के संपर्क में था. ये उनके कहने पर देश के अलग-अलग राज्यों में महादेव ऑनलाइन सट्टा के कई पैनल संचालित करता था. इस काम में उसने अपने भाई लोकेश नेपाली और अन्य करीबियों को भी लगा रखा था।

दुर्ग पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम दीपक की कई महीने से तलाश कर रही थी. पुलिस ने उसके कई ठिकानों और घर पर छापेमारी की लेकिन पुलिस के पहुंचाने से पहले ही दीपक फरार हो जाता था. मंगलवार को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि वैशाली नगर थाना क्षेत्र में दीपक अपने घर के आसपास घूम रहा है. जिसके बाद दुर्ग एसएसपी रामगोपाल गर्ग ने वैशाली नगर थाना और क्राइम ब्रांच की टीम को निर्देशित किया और पुलिस ने दीपक नेपाली को घेराबंदी कर गिरफ्तार किया.

बता दें कि दीपक नेपाली के खिलाफ सुपेला, वैशाली नगर और छावनी सहित अन्य थानों में ऑनलाइन सट्टा, लूट, अपहरण और अन्य जैसे गंभीर धाराओं के तहत मामले दर्ज हैं।

हाल ही में दुबई पुलिस ने रवि उप्पल को गिरफ्तार किया था

इस महीने की शुरुआत ही में ही दुबई पुलिस (Dubai Police) ने महादेव ऑनलाइन बेटिंग (Mahadev Online Betting App) सिंडिकेट के 2 प्रमुख आरोपियों में से एक रवि उप्पल (Ravi Uppal) को गिरफ्तार किया था. उप्पल को जल्द ही भारत प्रत्यर्पित करने की खबर थी. UAE में बैठकर सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल पुलिस, ब्यूरोक्रेट्स और पॉलिटिशियन का एक नेक्सस तैयार कर महादेव बेटिंग एप को हिंदुस्तान में ऑपरेट कर रहा था।

रमन सिंह ने कहा था  ‘सुशासन का सूर्योदय’

पूर्व सीएम और वर्तमान में छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ रमन सिंह ने रवि की गिरफ्तारी को ‘सुशासन का सूर्योदय’ बताते हुए अपने सोशल मीडिया हैंडल पर लिखा है कि “सट्टेबाजों का संरक्षण तब तक ही था जब तक कांग्रेस की सरकार थी, कांग्रेसी कुशासन के अंत के साथ ही अब अपराधियों के अंत की दिशा में छत्तीसगढ़ बढ़ चला है।

उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में लिखा था कि “अपराधी चाहे भिलाई में हो या सात समंदर पार दुबई में जिसनें भी छत्तीसगढ़ को लूटा है उसे हथकड़ी में जकड़ कर क़ानून के सामने पेश होना होगा. सुशासन का सूर्योदय.”

रमन सिंह ने यह भी लिखा था कि “हमारे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने महादेव सट्टा एप का पौधा रोपा और ईडी की कार्रवाई के बीच छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार संरक्षण की दीवार बनकर खड़ी रही. उस कांग्रेसी कुशासन की दीवार गिरते ही, छत्तीसगढ़ में भाजपा की नई सरकार के शपथ ग्रहण से पहले ही महादेव सट्टा एप में हो रही गिरफ्तारी इस बात का प्रमाण है कि भाजपा के सुशासन में किसी भी तरह के अवैध कार्य करने वाला कोई नहीं बच पायेगा.”