रायपुर. कांग्रेस विधायक ने विधानसभा में चल रहे प्रश्नकाल के दौरान राजनादगांव में बहने वाले आर्सनिक पानी पीने से होने वाली बीमारी का मुद्दा सदन में उठाया, उन्होंने कहा कि सरकार इस विषय को लेकर क्या कदम उठा रही है कितनी राशी खर्च की गई है और जिले में कितने मरीज है जिनका इलाज चल रहा है.

जिसके जवाब में स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव ने कहा कि बीमारी के रोकथाम के लिए शुद्ध पेयजल जल प्रदाय योजना के द्वारा किया जा रहा है और आर्सेनिक पानी पीने से होने वाली बीमारी के रोकथाम के लिए ओपीडी और स्वास्थ्य शिविरों के माध्यम से जांच कराने की व्यवस्था है. जिले में वर्तमान में अभी तक 37 मरीज हैं.