एक और जहां पूरी दुनिया करुणा से लड़ने के लिए जुटी हुई है वही 5 वर्ष का बच्चा रमजान माह में कोरोना बीमारी से दुनिया को बचाने के लिए 14 घंटे का रोजा रख लोगों और देशवासियों की सेहत के लिए दुआ मांग रहा है।
महज 5 साल की उम्र में हमजा खान पिता सिराज खान ने छोटी सी उम्र में 14 घंटे का रोजा रख एक सकारात्मक संदेश लोगों तक पहुंचा रहा है।
रमजान-ए-माह सबसे पवित्र माह माना जाता है कहते हैं इस माह में अगर कोई सच्चे दिल से ऊपर वाले की इबादत करें तो सारी हसरतें पूरी होती है हमजा ने 14 घंटे का रोजा रख एक शुभ संदेश और भाईचारा का मिसाल पेश किया है।