अगवा एक ग्रामीण की नक्सलियों ने की हत्या, चुनाव के विरोध में फेंके पर्चे

चुनाव की घोषणा से लेकर अब तक लगातार  नक्सलियों का समूह छत्तीसगढ़ विधानसभा  चुनाव के विरोध में कई बड़ी  घटना को इंजाम दे  चुके है जिसके बाद फिर एक बार नक्सलियों ने अपने कायराना  करतूत को उजागर किया है बेकसूर ग्रामीणों को अगवा कर  नक्सलियों ने  चुनाव बहिस्कार के विरोध में बेरहमी से मौत के घाट  उतार दिया उसके बाद  लाश को गॉव के नजदीक फेक दिया  ग्रामीणों पर मुखबिरी का आरोप लगते हुए   भाजपा सरका की  निंदा की और दूसरे  ग्रामीणों को रिहा कर दिया

आप को बता दे की  दो दिनों पूर्व नक्सलियों ने गंगालूर थाना क्षेत्र से दो ग्रामीणों का अपहरण किया था, जिनमें से एक ग्रामीण की हत्या कर शव को सडक़ पर फेंक दिया है, वहीं भोपालपटनम क्षेत्र में चुनाव के विरोध में भारी मात्रा में पर्चे फेंका है।

जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के बन्देपारा से दो ग्रामीणों का नक्सलियों ने अपहरण कर लिया था, जिनमे से एक ग्रामीण आयतू हेमला पर मुखबिरी का आरोप लगा कर शव को गांव के नजदीक फेंक दिया वही दूसरे ग्रामीण को रिहा कर दिया है।

 

जबकि भोपालपट्नम थाना क्षेत्र के उल्लूर में भारी मात्रा में पर्चा फेंक कर चुनाव व भाजपा का विरोध किया है वहीं सभी राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों के फोटो पर क्रॉस निशान लगाते हुए उन्हें जूतों और चप्पलों से मार भगाने की बातें लिखी हुई है। लगातार नक्सलियों द्वारा चुनाव बहिष्कार किये जाने से अंदरूनी क्षेत्र में काफी दहशत का माहौल व्याप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *