डीजल की चोरी करने वाले 2 ढाबा संचालकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार,4 लोग फरार

 महासमुंद। इंडियन आयल कार्पोरेशन की भूमिगत ईंधन पाइपलाइन में छेद कर एक बार में 20 हजार लीटर तक डीजल की चोरी करने वाले शातिर गिरोह के दो सदस्यों को पुलिस ने उत्तर प्रदेश के मथुरा से दबोचा है। वहीं चोरी का डीजल खपाने वाले दो ढाबा संचालकों को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरोह के चार सदस्य अब भी फरार हैं।एसपी संतोष सिंह ने बताया कि आरोपित ओडिशा में इस तरह की सात घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। 26 जुलाई 2018 को छत्तीसगढ़ के सरायपाली थाने में इंडियन आयल कार्पोरेशन आरंग एरिया के प्रबंधक अखिल सिंह परिहार ने चट्टीगिरोला में पारादीप से रायपुर की ओर बिछी पाइप लाइन से डीजल चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।एसपी ने बताया कि घटनास्थल के टावर क्षेत्र में घटना वाले दिन के मोबाइल नंबरों को ट्रेस करने से संदिग्धों के नंबर मिल गए। इसके बाद क्राइम स्क्वॉड की टीम ने मुख्य आरोपी दलबीर सिंह (38) निवासी ग्राम बरारी जिला मथुरा व गुड्डा चौधरी (36) शांतिनगर दामोदरपुर मथुरा को हिरासत में लिया। वहीं चोरी का डीजल खपाने वाले जिला सुंदरगढ़ ओडिशा के दो ढाबा संचालक मनोज उर्फ महाकुल (32) ग्राम बढ़गांव सुंदरगढ़ व तुलेश्वर यादव उर्फ तुल्लु मामा (53) निवासी ग्राम कुम्बाहाल सुंदरगढ़ को हिरासत में लिया है। आरोपियों के पास से जनरेटर, टैंकर, कार सहित 37 लाख रुपये का सामान भी जब्त किया गया है।मिट्टी हटाकर पाइपलाइन छूते थे। पाइप ठंडी होने पर पेट्रोल व गर्म होने पर डीजल बहने का पता कर लेते थे। पेट्रोल बहने पर अग्नि दुर्घटना के डर के चलते चोरी नहीं करते थे। आरोपित पहले जनरेटर और वेल्िडग मशीन से वॉल्व वेल्ड करते, फिर पाइप में छेद करते थे। वॉल्व की वजह से पाइपलाइन से डीजल टैंकर तक पहुंच जाता। मात्र 20 मिनट में 20 हजार लीटर डीजल चोरी कर वाल्व बंद कर पाइपलाइन पर मिट्टी डाल देते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *