PM मोदी बोले- “जो निर्दोषों को मारे, कांग्रेस उसे क्रांतिकारी कहती है, कांग्रेस को कभी माफ नहीं करेगी जनता”…पूछा – “काम करने वाली भाजपा सरकार चाहिए या काम रोकने वाली कांग्रेस सरकार”

जगदलपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। चाहे विकास की बातें हो या फिर नक्सलवाद के मुद्दे पर कांग्रेस के रूख की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर चुन-चुनकर हमला किया। उन्होंने नक्सलियों को क्रांतिकारी कहने पर भी कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। पिछले दिनों दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद साहू और जवानों की शहादत पर दुख जताते हुए कहा कि

“जो निर्दोष को मारे, कांग्रेस उसे क्रांतिकारी कहती है, क्या निर्दोषों को मारने वाले क्रांतिकारी होते हैं…क्या ऐसे लोगों को आप कभी माफ करेंगे क्या ?…क्या देश कभी माफ करेगा क्या “

उन्होंने बस्तर के पुराने इतिहास को बयान करते हुए कहा कि कांग्रेस ने बस्तर में नीलवाया हमले का जिक्र करते हुए कहा कि ..यहां  आदिवासियों को गोलियों से भून दिया था, उसमें महाराज भी मारे गये थे। आदिवासी मंत्रालय नहीं बनाने को लेकर भी पीएम मोदी ने कांग्रेस की पुरानी सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने तीखा कटाक्ष करते हुए कहा कि जो लोग चांदी का चम्मच लेकर पैदा हुए, वो आदिवासियों का हक नहीं समझते।

विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए अपने संबोधन की शुरुआत गोंडी भाषा से की। उन्होंने भाई दूज के दिन भी बड़ी संख्या में लोगों की मौजूदगी पर शुक्रिया जताते हुए कहा कि

“70 सालों में जितने प्रधानमंत्री बस्तर नहीं आये हैं, उससे कहीं ज्यादा बार मैं अकेले ही आया हूं और जब भी आया हूं खाली हाथ नहीं आया, …आज बहनों-माताओं से भाईदूज के दिन कुछ मांगने आया हूं. बस्तर की सभी सीटों पर भाजपा को जीताईये”

राफेल के मुद्दे पर कांग्रेस के शोर पर बिना नाम लिये पीएम मोदी ने कहा कि हमारा काम सबका साथ सबका विकास है, जबकि उनका काम सिर्फ झूठ बोलो-झूठ बोलो है। उन्होंने कहा कि इससे पहले जो दिल्ली में सरकार थी, उसने छत्तीसगढ़ के विकास के कामों में खूब रोड़े अटकाये। आप तय कीजिये कि

“बस्तर में काम रोकने वाली सरकार चाहिये, या काम करने वाली सरकार”

पीएम मोदी ने कहा कि आदिवासियों का कांग्रेस ने मजाक बना दिया था। पूर्वोत्तर में जब आदिवासी परिधान में एक बार उनका स्वागत किया गया था, तो कांग्रेस ने पगड़ी का मजाक बना दिया था। उन्होंने कहा कि आदिवासियों के पहनावे और गाजे बाजे का भी मजाक बना दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *